November 30, 2021 9:24 am
featured यूपी राज्य

लकड़ी से भरी ट्रैक्टर ट्राली में घुसी वैगनआर कार, एक परिवार के 5 लोगों की मौत

हादसा लकड़ी से भरी ट्रैक्टर ट्राली में घुसी वैगनआर कार, एक परिवार के 5 लोगों की मौत

नई दिल्ली। मुरादाबाद-आगरा हाईवे के कुंदरकी थानाक्षेत्र पर शनिवार की रात सड़क पर खड़ी लकड़ी से भरी ट्रैक्टर ट्राली में एक वैगनआर कार जा घुसी। इस हादसे में दो महिला और एक बच्ची समेत पांच लोगों की मौत हो गई। कार में सवार छठे व्यक्ति को गंभीर चोट लगी है। उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। फिलहाल पुलिस घटना की जांच पड़ताल में जुटी है। हादसे में मारे जाने वाले सभी लोग एक ही परिवार के थे। घटना के बाद मृतक के घर में कोहराम मच गया है।

जानकारी के मुताबिक, कुंदरकी क्षेत्र के मझोली में रहने वाले जाहिद अपनी पत्नी फूलजहां के साथ शनिवार की दोपहर कुंदरकी बाजार गए थे। यहां बाजार में फूलजहां संदिग्ध हालात में लापात हो गई। काफी खोजबीन करने पर भी उनका पता नहीं चल सका। देर शाम इसकी सूचना फूलजहां के मायके मूंढापांडे थानाक्षेत्र स्थित मेंहदी रामपुर गांव में दी गई। 

बता दें कि से फूलजहां के मायके पक्ष से उसकी भाभी फूल (50), रूबी (40), फूल का बेटा गुड्डू (22), फूल की पोती फातिया (4) और मोहम्मद रफी सूचना मिलने पर फूलजहां की तलाश करने के लिए वैगनआर कार से मझोला जा रहे थे। कार को निकट के गांव मदनापुर का रहने वाला महबूब चला रहा था। पुलिस ने बताया कि कुंदरकी क्षेत्र में तेज गति से आ रही यह कार सड़क पर खड़ी ट्रैक्टर ट्राली से जा टकराई। जानकारी के मुताबिक, पंक्‍चर होने के कारण ट्रैक्‍टर ट्रॉली सड़क पर खड़ी थी। 

वहीं इस भीषण हादसे में कार सवार सभी लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। जबकि कार बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई। सभी घायलों को कुंदरकी स्थित सीएचसी ले जाया गया। जहां पर डॉक्टरों ने गुड्डू, मोहम्मद रफी, रूबी, फूल और फातिया को मृत घोषित कर दिया। वहीं, महबूब को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उसकी हालत गंभीर बताई जा रही है।

Related posts

आखिरी मैंच खेल रहे कुक ने ओवर थ्रो के लिए जसप्रीत बुमराह को कहा धन्यवाद

mahesh yadav

यूपी में फेक न्यूज़ फैलाना पड़ेगा भारी, सीएम ने दिए निर्देश

Aditya Mishra

UP: जनसंख्या नियंत्रण विधेयक की क्‍या है जरूरत, जानिए इससे पहले क्‍या-क्‍या हुआ

Shailendra Singh