झारखंड 2 झारखंड विधानसभा चुनाव के पांचवें और आखिरी चरण में मतदान जारी, जाने अब तक क्या है

रांची। झारखंड विधानसभा चुनाव के पांचवें और आखिरी चरण में संथाल क्षेत्र की 16 विधानसभा सीटों पर वोट डाले जा रहे हैं। इस चरण में 236 प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला हो रहा है। संथाल क्षेत्र को झारखंड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम)का गढ़ माना जाता है। इस चरण में 40,05,287 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर रहे हैं। जिन 16 सीटों पर वोटिंग हो रही है, उनमें सात सीटें अनुसूचित जनजाति के लिए सुरक्षित हैं। साल 2014 के विधानसभा चुनावों में इनमें से छह जेएमएम ने और पांच बीजेपी ने जीती थीं।

राज्य के मुख्य चुनाव अधिकारी विनय कुमार चौबे के मुताबिक, इन सभी सीटों के लिए कुल 5,389 मतदान केंद्र बनाए गए हैं, जिनमें शहरी क्षेत्र में 269 और ग्रामीण क्षेत्र में 5,120 मतदान केंद्र अवस्थित हैं। इस चरण में 20,49,921 पुरुष, 19,55,336 महिला और 30 थर्ड जेंडर के मतदाता है। 93,779 नए मतदाता (18-19 साल के) हैं। इसके अलावा 80 साल से ज्यादा आयु के 41,505 और 49,446 दिव्यांग मतदाता शामिल हैं। मतदान सुबह 7 बजे शुरू होगा। नक्सल प्रभावित दोपहर बोरियो, बरहेट, लिट्टीपाड़ा, महेशपुर और शिकारीपाड़ा में दोपहर 3 बजे और बाकी 11 सीटों पर शाम 5 बजे तक मतदान होगा।

मतदान कराने के लिए कुल 28 मतदान केन्द्रों के कर्मियों को हेलिकॉप्टरों से उनके तैनाती के क्षेत्रों तक पहुंचाया गया है। कुल 84 दूरदराज के इलाकों में सैटलाइट फोन की व्यवस्था की गई है। चौबे ने बताया कि पांचवें चरण में जिन 16 विधानसभा सीटों के लिए चुनाव होना है, वे छह जिलों में स्थित हैं। इनमें साहेबगंज जिले में राजमहल, बोरियो और बरहेट, पाकुड़ जिले में लिट्टीपाड़ा, पाकुड़ और महेशपुर, जामताड़ा जिले में नाला और जामताड़ा, दुमका जिले में शिकारीपाड़ा, दुमका, जामा और जरमुंडी, देवघर जिले में सारठ और गोड्डा जिले में पोडैयाहाट, गोड्डा और महगामा विधानसभा सीटें शामिल हैं।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने बताया कि दिव्यांग मतदाताओं की मतदान में भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए विशेष व्यवस्था की गई है। इसके तहत मतदान केन्द्रों में 2065 वील चेयर और 7,505 स्वयंसेवकों की तैनाती की गई है। इसके अलावा उन्हें घर से मतदान केन्द्र तक लाने-ले जाने के लिए 2,766 वाहनों का इस्तेमाल किया जाएगा। चौबे ने बताया कि पांचवें चरण के चुनाव में 237 प्रत्याशी अपनी किस्मत आजमा रहे थे, जिनमें 208 पुरुष और 29 महिला प्रत्याशी शामिल थे। जरमुंडी सीट से सबसे ज्यादा 26 और पोड़ैयाहाट सीट के लिए सबसे कम सात प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे हैं।

सीईओ चौबे ने बताया कि पांचवें चरण के चुनाव को लेकर 1,347 मतदान केंद्रों पर वेबकास्टिंग की व्यवस्था की गई है। वहीं, 249 आदर्श मतदान केंद्र और 133 महिला संचालित मतदान केंद्र बनाए गए हैं। विनय कुमार चौबे ने बताया कि पांचवें चरण में 1717 मतदान केन्द्रों को अति संवेदनशील और 1,973 संवेदनशील घोषित किया गया है। इन मतदान केन्द्रों पर सशस्त्र जवानों की तैनाती की गई है। इस चरण में पूर्व मुख्यमंत्री और झारखंड मुक्ति मोर्चा के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन, राज्य के कई मंत्रियों और झारखंड विकास मोर्चा के प्रदीप यादव की किस्मत दांव पर है। सोरेन बरहेट और दुमका दोनों सीटों से चुनाव मैदान में हैं।

Rani Naqvi
Rani Naqvi is a Journalist and Working with www.bharatkhabar.com, She is dedicated to Digital Media and working for real journalism.

    आईपीएल 2020 सीजन के लिए कोलकाता में खिलाड़ियों की नीलामी जारी, जाने कौन सा खिलाड़ी कितने में बिका

    Previous article

    CAA के खिलाफ प्रदर्शन को लेकर कांग्रेस नेता संदीप दीक्षित, लेफ्ट नेता सीताराम येचुरी समेत कई बड़े नेता हिरासत में

    Next article

    You may also like

    Comments

    Comments are closed.

    More in featured