जिला पंचायत सदस्य के एक पद पर 33 उम्मीदवार, दिलचस्प होगा मुकाबला

लखनऊ: लखनऊ में पंचायत चुनाव के प्रथम चरण के लिए मतदान 15 अप्रैल को होगा। 18 जनपदों में कल मतदान होगा और वोट डाले जाएंगे। गुरुवार को सुबह सात बजे से शाम छह बजे तक वोटिंग की जाएगी। राज्य निर्वाचन आयोग खुद मतदान की निगरानी करेगा। इस दौरान कोविड प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन कराया जाएगा।

दो मई को होगा भाग्य का फैसला

बता दें कि यूपी के त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव चार चरणों में होने हैं प्रथम चरण में जहां 15 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे वहीं द्वितीय चरण में 19 अप्रैल को वोटिंग होगी वहीं तृतीय चरण की वोटिंग जहां 26 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे वहीं चतुर्थ चरण में 29 अप्रैल को मतदान होगा। वहीं पंचायत चुनाव की मतगणना दो मई को होगी। दो मई को विभिन्न पदों के लिए चुनाव लड़ रहे प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला हो जाएगा।

सरकार के सामने है दोहरी चुनौती

वहीं त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में मतदान और मतगणना को लेकर सरकार के लिए दोहरी चुनौती सामने आ गई है। एक तरफ सरकार के लिए बिना भेदभाव के पंचायत चुनाव संपन्न कराना है और कानून व्यवस्था का भी ध्यान रखना है तो वहीं कोरोना संक्रमण से भी लोगों को बचाना है।

इसके लिए सरकार अपनी तरफ से सारे प्रयास कर रही है। योगी सरकार ने विभिन्न जिलों के जिलाधिकारियों को सूचित कर दिया है कि मतदान और मतगणना के दौरान कोरोना को लेकर किसी भी स्तर की ढिलाई बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

मास्क लगाना अनिवार्य

इसके देखते हुए विभिन्न जिलों के डीएम और कमिश्नर ने मतदाताओं और मतदान स्थल में मौजूद कर्मचारियों से साफ कह दिया है कि मतदान के दौरान मास्क लगाना अनिवार्य होगा। इसी के साथ सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन करना होगा।

इसके अतिरिक्त हर मतदान स्थल पर सेनेटाइजर की भी व्यवस्था करनी होगी। सरकार की कोशिश है कि मतदान के दौरान कोरोना के संक्रमण को रोका जा सके। जिससे ये बीमारी तीव्र गति से न फैल सके। इसके लिए एडवाइजरी जारी कर दी गई है।

CBSE बोर्ड परीक्षाओं को लेकर बड़ा फैसला, 12वीं की स्थगित और 10वीं की परीक्षाएं रद्द

Previous article

केडी सिंह बाबू स्टेडियम के खेल निदेशालय में चार कर्मचारी मिले कोविड पॉजिटिव

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured