Breaking News featured देश

किसानों को समर्थन देने पहुंचे बॉक्सर विजेंदर सिंह, कहा- सरकार नहीं मानी तो वापस कर दूंगा राजीव गांधी खेल रत्न

vijendra किसानों को समर्थन देने पहुंचे बॉक्सर विजेंदर सिंह, कहा- सरकार नहीं मानी तो वापस कर दूंगा राजीव गांधी खेल रत्न

सिंघु बॉर्डर पर किसानों का आंदोलन जारी है. ठड़ बढ़ती जा रही है, लेकिन किसानों के हौसला बुलंद हैं. सरकार के साथ एक के बाद एक बातचीत बेनतीजा जा रही है, लेकिन किसान भी कृषि कानूनों को खारिज करने की अपनी मांग से टस से मस नहीं हो रहे.

किसानों को मिल रहा देश का समर्थन!
किसानों को लगातार समर्थन भी मिल रहा है. सोशल मीडिया से लेकर ग्राउंड तक किसानों के समर्थन में लोग और हस्तियां खड़े हो रहे हैं. इसी बीच पुरस्कारों को लौटाने का सिलसिला भी जारी है. कई बड़ी हस्तियां अपने पुरस्कारों को लौटाकर सरकार के खिलाफ विरोध जता रही हैं.

विजेंदर ने भी पुरस्कार लौटाने की बात कही
अब बॉक्सर विजेंदर सिंह किसानों को समर्थन देने के लिये सिंघू बॉर्डर (हरियाणा-दिल्ली बॉर्डर) पहुंचे. जहां वो किसान आंदोलन में शामिल हुए. इसी दौरान विजेंदर सिंह ने कहा कि अगर सरकार किसानों की मांगों को नहीं मानती है तो वो अपना राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार वापस लौटा देंगे.

ये लोग वापस कर चुके हैं अपने पुरस्कार
आपको बता दें इससे पहले शिरोमणि अकाली दल के वरिष्ठ नेता प्रकाश सिंह बादल भारत सरकार से मिले पद्म विभूषण सम्मान को वापस कर चुके हैं. वहीं इसके अलावा राज्यसभा सांसद सुखदेव सिंह ढींढसा ने भी अपना पद्म पुरस्कार वापस कर चुके हैं.

यही नहीं पंजाबी में भारतीय साहित्य अकादमी पुरस्कार के विजेता पंजाब के प्रसिद्ध शायर डॉ. मोहनजीत, प्रख्यात विचारक डॉ. जसविंदर सिंह और पंजाबी नाटककार व एक अखबार के संपादक ने किसानों के समर्थन में अपने पुरस्कार लौटा दिए हैं.

आपको बता दें केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के खिलाफ सिंघू सीमा पर किसानों का विरोध प्रदर्शन आज 11वें दिन में प्रवेश कर गया है.

Related posts

अयोद्धा प्रकरण: इक़बाल अंसारी बोले सुप्रीम कोर्ट का निर्णय सराहनीय, समीक्षा की जरूरत नहीं

Trinath Mishra

J&K: ट्रक में गोला-बारूद ले जा रहे थे आतंकी, सुरक्षाबलों ने किया ढेर

Hemant Jaiman

अफगानिस्तान छोड़ने के लिए अफगान लड़कियों ने उठाया यह कदम, काबुल एयरपोर्ट के बाहर की शादी

Rahul