featured यूपी

कानपुर: विकास दुबे के एनकाउंटर के बाद भी अपराधियों के हौसले बुलंद, व्यापारी का अपहरण कर हत्या से सनसनी

कानपूर: विकास दुबे के एनकाउंटर के बाद भी अपराधियों के हौसले बुलंद, व्यापारी का अपहरण कर हत्या से सनसनी

कानपुर: जिले में हिस्ट्रीशीटर और गुंडे लोगों का राज कुछ ज्यादा ही है। यहां विकास दुबे जैसे लोग राज कर चुके है। विकास दुबे की मौत के बाद भी यहां रहना लोगों के लिए आसान नहीं है। हम बात कर रहे है शिवराजपुर की, जहां 10 जून को गुंडा टैक्स ना देने पर व्यक्ति का अपहरण कर लिया जाता है और 10 दिन बाद उसकी मौत हो जाती है।

हिस्ट्रीशीटर ने गुंडा टैक्स ना देने पर हुए विवाद के बाद व्यक्ति का अपहरण कर उसकी पिटाई की, पिटाई के बाद व्यक्ति को अधमरी हालत में सड़क पर फेंक कर फरार हो गय। गंभीर घायल की इलाज के दौरान मौत हो गई।

क्या है मामला

शिराजपुर क्षेत्र में एहसान नाम का व्यक्ति सब्जी का ठेला लगाकर अपना जीवन व्यापन करता है। आरोप है कि प्रधान का हिस्ट्रीशीटर बेटा अभिषेक सिंह जिसकों लोग बोनी ठाकुर के नाम से भी जानते है। उसने सब्जी व्यापारी से गुंडा टैक्स वसूली मांगी। हिस्ट्रीशीटर को इलाक में गुंडा टैक्स सभी लोग देते है। पर इस व्यापारी ने गुंडा टैक्स नहीं दिया। अब हिस्ट्रीशीटर पर आरोप है कि पैसा ना मिलने पर वह सब्जी व्यापारी का अपहरण कर लेता है और अपने साधियों के साथ मिलकर लाठी डंडों से मिलकर पीटता है। गंभीर घायल सब्जी व्यापारी को जीटी रोड के पास फेंक दिया जाता है।

गंभीर घायल सब्जी व्यापारी को जैसे तैसे अस्पतालम में भर्ती कराया जाता है। जहां 10 दिन के बाद उसकी दर्दनाक मौत हो गई।

मामले की जानकारी पुलिस को होने पर सीओ बिल्हौर ने बताया कि हिस्ट्रीशीटर के खिलाफ परिजनों ने हत्या के मामले में तहरीर दी है। पुलिस लगातार गिरफ्तारी के लिए दबिश दे रही है। इस मामले में जल्द ही कार्रवाई की जाएगी।

Related posts

धवन ने ठोंका शानदार शतक, बराबर किया युवराज के 14 शतकों का रिकॉर्ड

mahesh yadav

संगोष्ठी: जातीय जनगणना जरूरी, तभी होगा हर तबके का विकास

Aditya Mishra

सीएम योगी ने दलित परिवार के घर खाया खाना, जमीन पर बैठे, पत्तल में खाई खिचड़ी, कुल्हड़ में पिया पानी  

Saurabh