featured क्राइम अलर्ट यूपी

लखनऊ: क्राइम ब्रांच के 8 पुलिसकर्मियों पर डकैती का केस दर्ज, जानिए, क्या है मामला?

975110 dcp east लखनऊ: क्राइम ब्रांच के 8 पुलिसकर्मियों पर डकैती का केस दर्ज, जानिए, क्या है मामला?

लखनऊ क्राइम ब्रांच के 8 पुलिसकर्मियों के खिलाफ डकैती का मामला दर्ज किया गया है। इन पुलिसकर्मियों के खिलाफ मामला कानपुर के काकादेव थाने में दर्ज हुआ है।

טוויטר \ Kalanidhi Naithani (I.P.S) בטוויטר: "@crimebranchlko launches a  number to help report organized crime @lkopolice @Uppolice क्षेत्र में हो  रहे किसी भी बड़े संगठित अपराध या जघन्य अपराध की ...

क्राइम ब्रांच के 8 पुलिसकर्मियों पर डकैती का केस दर्ज

लखनऊ क्राइम ब्रांच के 8 पुलिसकर्मियों के खिलाफ डकैती का मामला दर्ज किया गया है। इन पुलिसकर्मियों के खिलाफ मामला कानपुर के काकादेव थाने में दर्ज हुआ है। कोर्ट के आदेश पर लखनऊ के डीसीपी ईस्ट की क्राइम टीम में शामिल आठ पुलिसकर्मियों पर कानपुर के काकादेव थाने में डकैती की एफआईआर की गई है। तहरीर देने वाले रेस्टोरेंट संचालक मयंक ने आरोप लगाया था कि आठों आरोपी कर्मियों ने उसे, उसके मामा और दोस्तों को जबरन बंधक बनाया और फिर लखनऊ उठाकर ले आए। इसके साथ ही पुलिसकर्मियों पर 40 लाख रुपये वसूली का भी आरोप है।

कोर्ट के आदेश के बाद हुई कार्रवाई

बताया जा रहा है कि पीड़ित परिवार ने पुलिसकर्मियों की ज्यादती के खिलाफ कोर्ट में अर्जी पेश की थी। कोर्ट से आदेश मिलने के बाद दारोगा रजनीश वर्मा समेत 8 पुलिसकर्मियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है। एफआईआर दर्ज होते ही कानपुर पुलिस में हड़कंप मच गया है। दर्ज रिपोर्ट के मुताबिक आरोपी पुलिसकर्मियों ने मयंक के घर डाका डालकर नकदी और जेवरात लूट लिये। जब पुलिस फंसने लगी तो साजिश के तहत सभी पीड़ितों के खिलाफ लखनऊ के गोमतीनगर थाने में जुआ का मुकदमा दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार दिखा दिया गया।

24 जनवरी 2021 को हुई थी वारदात

इस मामले में दारोगा रजनीश वर्मा, सिपाही देवकी नंदन, संदीप शर्मा, नरेंद्र बहादुर सिंह, राम निवास शुक्ला, आनंद मणि सिंह, अमित लखेड़ा और रिकू सिंह आरोपी हैं। आरोप है कि 24 जनवरी 2021 को मयंक सिंह अपने दोस्त आकाश के साथ काकादेव स्थित एक चाय के होटल पर गया था। उसी समय कुछ लोगों ने उसे जबरदस्ती कार में बैठा लिया और कहीं ले गए।

40 लाख रुपये लूटने का आरोप

मयंक सिंह और आकाश गोयल को लखनऊ डीसीपी ईस्ट के क्राइम टीम कैंट थाने ले आई। दोनों को कैंट थाने में रखने के बाद पुलिस ने मयंक के मामा दुर्गा सिंह और कोचिंग संचालक शमशाद अहमद को हजरतगंज इलाके से हिरासत में लिया। पुलिस टीम ने पहले शमशाद से दुर्गा सिंह के बड़े भाई विक्रम सिंह से 1 करोड़ रुपए मंगवाए फिर 40 लाख पर बात बनी। आरोप है कि जब पीड़ित इतने पैसे नहीं दे सके तो उन्हें कोतवाली में बंधक बना लिया गया। इतना ही नहीं, आरोपी पुलिसकर्मियों ने रिश्तेदार अजय सिंह से घर से 40 लाख रुपये की लूट की। इस मामले में पीड़ित मयंक सिंह ने कोर्ट से गुहार लगाई थी। जिसके बाद कोर्ट के आदेश से कानपुर के काकादेव थाने में लखनऊ के आठ पुलिसकर्मियों पर डकैती का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

Related posts

यूपी न्यूज: शहीद सिपाही की शहादत का यूपी पुलिस ने 12 घंटे के भीतर लिया बदला

sushil kumar

ऑटो रिक्शा वालों ने केजरीवाल के खिलाफ खोला मोर्चा

Pradeep sharma

समतामूलक समाज के सपनों को पूरा कर रहा BBAU: राष्‍ट्रपति कोविंद

Shailendra Singh