featured उत्तराखंड देश

उत्तराखंड में आसमानी आफत का कहर: अब तक 25 से ज्यादा लोगों की मौत, कुमाऊं में ऑरेंज अलर्ट जारी

588 उत्तराखंड में आसमानी आफत का कहर: अब तक 25 से ज्यादा लोगों की मौत, कुमाऊं में ऑरेंज अलर्ट जारी

उत्तराखंड में बारिश से हालात बेकाबू हो चुके हैं। हर तरफ आसमानी कहर बरप रहा है। हर क्षेत्र में त्राहिमाम मचा हुआ है। कहीं बादल फटने की खबरें सामने आ रही हैं। तो कहीं मलबे में दबने से कई लोग लापता हो चुके हैं।

आसमानी आफत में अब तक 25 से ज्यादा लोगों की मौत

उत्तराखंड में बारिश से हालात बेकाबू हो चुके हैं। हर तरफ आसमानी कहर बरप रहा है। हर क्षेत्र में त्राहिमाम मचा हुआ है। कहीं बादल फटने की खबरें सामने आ रही हैं। तो कहीं मलबे में दबने से कई लोग लापता हो चुके हैं। कुमाऊ जिले में इस बार बारिश ने ऐसी तबाही मचाई है कि हर चीज पानी के साथ बहती नजर आ रही है। राज्य के कई हिस्सों में इस नई प्राकृतिक आपदा में अब तक 25 लोगों की मौत हो चुकी है। नैनीताल और अन्य क्षेत्रों से कई ऐसे वीडियो सामने आए हैं, जिसमें सड़कों और पुलों से पानी बहता दिख रहा है। यही नहीं रेल की पटरियां तक बह गई हैं।

200 लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया

नैनीताल में बारिश पिछले डेढ़ दिन से बेकाबू है। आसमानी आफत का कहर लोगों पर इस कदर टूटा है कि कई घर तबाह हो चुके हैं। तो कहीं आने जाने के रास्ते तक बह गए हैं। नैनीताल के रामगढ़ इलाके में बादल फटने की खबर है। रामगढ़ में कई मजदूरों के बहने की आशंका जताई जा रही है। वहीं कई जगहों पर सैलानी भी फंस गए हैं। प्रशासन की ओर से बताया गया कि रामनगर-रानीखेत मार्ग स्थित लेमन ट्री रिजॉर्ट में फंसे करीब 200 लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया है। लगातार बारिश से अब तक 24 से 25 लोगों की मौत हो चुकी है. सबसे ज्यादा हताहत नैनीताल जिले में हुई।

सड़कों पर नैनी झील का पानी

भारी बारिश और भूस्खलन की वजह से नैनीताल के मशहूर नैनी झील का पानी सड़कों पर उफना गया और कई जगह पर लोग इससे फंस गए। पिछले दो दिनों से लगातार हो रही भारी बारिश के बाद झील के आसपास की इमारतों और घरों में पानी घुस गया। वहीं मौसम विभाग ने सूचना जारी करते हुए बताया कि 24 घंटे में बहुत भारी बारिश हुई है। नैनीताल में 401 एमएम बारिश दर्ज हुई है।

कुमाऊं क्षेत्र में बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी

वहीं कुमाऊं क्षेत्र में मौसम विभाग ने बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। जबकि गढ़वाल में मौसम साफ रहने की उम्मीद है। मौसम विभाग ने बताया कि अगले चार दिनों तक गढ़वाल क्षेत्र में बारिश नहीं होगी। इसके साथ ही मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी लगातार स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं। वहीं प्रदेश के हालातों पर पीएम मोदी ने भी सीएम धामी से बात की और स्थिति को जाना।

Related posts

भारत-पाकिस्तान के सुधर रहे रिश्ते, पाक फिर से शुरू करेगा व्यापार…

Saurabh

बारामूला हमले, पाकिस्तानी गोलीबारी के बाद मोदी से मिले डोभाल

bharatkhabar

लखनऊ: चुनाव के बीच पुलिस को मिली कामयाबी, अवैध हथियारों के साथ 2 आरोपी गिरफ्तार

Saurabh