featured उत्तराखंड

चमोली में बादल फटने से तबाही, मजदूरों की झोपड़ियां मलबे में दबीं, 23 सितंबर तक भारी बारिश का अलर्ट

rain monsoon flood landslide cloud burst 1632110068 चमोली में बादल फटने से तबाही, मजदूरों की झोपड़ियां मलबे में दबीं, 23 सितंबर तक भारी बारिश का अलर्ट

उत्तराखंड के चमोली में बादल फटने से जमकर तबाही मची। भारी बारिश के साथ आए मलबे से चारों ओर बर्बादी का मंजर देखने को मिला। 23 सितंबर तक पूरे राज्य में येलो अलर्ट जारी किया गया है।

चमोली में बादल फटने से तबाही, मजदूरों की झोपड़ियां मलबे में दबीं

उत्तराखंड के चमोली में बादल फटने से जमकर तबाही मची। भारी बारिश के साथ आए मलबे से चारों ओर बर्बादी का मंजर देखने को मिला। नारायणबगड़ इलाके में बादल फटने से सीमा सड़क संगठन के मजदूरों की करीब 7 झोपड़ियां बह गईं हैं। भारी बारिश ने चमोली जिले में इस कदर कहर बरपाया की चंद ही मिनटों में चारों तरफ बर्बादी का मंजर देखने को मिला। वहीं मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने भी इस हादसे में संज्ञान लेते हुए बताया कि इसमें कोई जनहानी नहीं हुई है।

आपदा में जन हानी की कोई खबर नहीं

बादल फटने के बाद पहाड़ी से आए मलबे और बारिश ने गांव में तबाही मचा दी। कई गाड़ियां मलबे में दब गईं। आपदा की सूचना मिलते ही जिला प्रशासन और एसडीआरएफ की टीमें मौके पर पहुंच गई। जिसके बाद से ही राहत और बचाव का कार्य जारी रहा। भारी बारिश के चलते सड़कें दलदल में तबदील हो गई थीं। नदियां उफान पकड़ चुकी थीं। हालांकि इस आपदा में अभी तक किसी के जानी नुकसान की कोई खबर नहीं है।

23 सितंबर तक भारी बारिश का येलो अलर्ट

उत्तराखंड में इन दिनों कई जिलों में मौसम का हाल इसी तरह आक्रमक बना हुआ है। मौसम विभाग ने राज्य में 23 सितम्बर तक भारी बारिश का येलो अलर्ट जारी किया है। कई गांवों में रविवार शाम से ही भारी बारिश जारी है, वहीं चमोली में भी भारी बारिश अभी भी जारी है। जिसके चलते राहत और बचाव कार्य में भी काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा।

Related posts

सोशल मीडिया की मदद से संगठन को मजबूती देंगे स्वयंसेवक, जानिए क्या होंगे बदलाव

Aditya Mishra

वैक्सीन अभी आई नहीं, ये परेशानियां मुंह बाये खड़ी हैं

Trinath Mishra

उत्तराखंडः सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने किया विश्व प्रसिद्ध जागेश्वर मेला का शुभारम्भ

mahesh yadav