featured उत्तराखंड

अल्मोड़ा:  पुलिस ने चंद घंटों में किडनैपर्स के चंगुल से छुड़ाए बच्चे, 4 आरोपियों को किया गिरफ्तार,  सीएम ने की तारीफ

vlcsnap 2021 09 09 16h43m40s050 अल्मोड़ा:  पुलिस ने चंद घंटों में किडनैपर्स के चंगुल से छुड़ाए बच्चे, 4 आरोपियों को किया गिरफ्तार,  सीएम ने की तारीफ
किडनैपर्स के कब्जे से पुलिस ने दो नाबालिग बच्चों को छुड़ाया

अल्मोड़ा पुलिस ने फिरौती के लिए अपहरण किए गए दो नाबालिग लड़कों को आरोपियों के चुंगल से छुड़ा लिया है। कपकोट बागेश्वर से फिरौती के लिए दो बच्चों का किडनैप किया गया था। जिसके बाद अल्मोड़ा पुलिस की एसओजी टीम ने कुछ ही घंटों में दोनों लड़कों को सही सलामत बरामद कर लिया। वहीं इस मामले में पुलिस ने चार लोगों को गिरफ्तार भी किया है। आरोपियों को अल्मोड़ा पुलिस ने बागेश्वर पुलिस के हवाले कर दिया है। वहीं मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने पुलिस की कार्रवाई की सराहना करते हुए एक लाख रुपये इनाम की घोषणा की है।

vlcsnap 2021 09 09 16h43m21s849 अल्मोड़ा:  पुलिस ने चंद घंटों में किडनैपर्स के चंगुल से छुड़ाए बच्चे, 4 आरोपियों को किया गिरफ्तार,  सीएम ने की तारीफ

वाहन सहित 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया- एसएसपी

वहीं एसएसपी पंकज भट्ट ने इसको लेकर बताया कि अल्मोड़ा पुलिस के कुशल नेतृत्व में घटना के मात्र कुछ घंटे में ही मामले का खुलासा किया है। उन्होंने बताया कि दोनों किडनैप किए हुए नाबालिग बच्चों को बरामद कर लिया है। वहीं उनसे फिरौती में ली गयी नगदी और अपहरण में इस्तेमाल किए गए वाहन सहित चार किडनैपर्स को गिरफ्तार किया गया है।

रुद्रपुर और उधमसिंह नगर के रहने वाले हैं आरोपी

वहीं इस मामले में पुलिस ने जिन आरोपियों को गिरफ्तार किया है उसमें रुद्रपुर निवासी विशाल आगरी पुत्र बीएल आगरी, रुद्रपुर निवासी विकास पाण्डे, पुत्र संजय पाण्डे। उधमसिंहनगर निवासी कमल कुमार आर्या, पुत्र प्रेम राम आर्या और कपकोट निवासी नीरज टाकुली पुत्र प्रेम सिंह टाकुली शामिल हैं। अपहरण करने वाले आरोपियों को पुलिस ने खरना के पास पकड़ा। पकड़ने वाली पुलिस टीम में एसओजी प्रभारी एसआई नीरज भाकुनी, दिनेश नगरकोटी, सन्दीप, दीपक खनका, कुंदन रौतेला एसओजी बागेश्वर और नरेंद्र, राजेन्द्र शामिल रहे। बता दें कि पहाड़ में फिरौती के लिए बच्चों को अगवा करने की यह पहली घटना है।

Related posts

गलवान घाटी पर चीन फिर कर रहा हिंसा भड़काने की कोशिश, जानिए क्या चाहता है चीन?

Mamta Gautam

3500 किलोमीटर की यात्रा पर निकली शिप्रा,नदी स्वच्छता की जगाएगी अलख

mahesh yadav

थोड़ा डगमगा गए थे, अब संभल गए : अखिलेश

bharatkhabar