Breaking News featured उत्तराखंड

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत का दिल्ली दौरा, जनहित और विकास को बताया सर्वोपरि

दिल्ली में मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत
दिल्ली/देहरादून। उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री का पदभार संभालने के बाद पहली बार दिल्ली पहुंचे तीरथ सिंह रावत का उत्तराखण्ड सदन में भव्य स्वागत हुआ।
बड़ी संख्या में सदन में मौजूद उत्तराखण्ड मूल के लोगों ने मुख्यमंत्री का फूल-मालाओं से स्वागत किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार जनभवनाओं के अनुरूप कार्य करेगी। जनता जो चाहेगी वही किया जाएगा।
दिल्ली में मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत
दिल्ली में मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के दिशा-निर्देशन में उत्तराखण्ड का चहुमुंखी विकास किया जाएगा। उत्तराखण्ड के प्रति प्रधनमंत्री जी के अपार लगाव की बदौलत ही यहां चारधाम ऑल वैदर रोड, ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल प्रोजेक्ट्, केदारनाथ-बदरीनाथ धाम पुनर्निर्माण समेत तमाम परियोजनाएं संचालित हो रही हैं। उत्तराखण्ड विकास के नए आयाम छू रहा है।
दिल्ली में मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत
दिल्ली में मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत
मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा कि उन्हें मुख्यमंत्री बने अभी एक सप्ताह का ही समय हुआ है। इस दौरान उन्होंने जनभावनाओं के अनुरूप फैसले लिये। सबसे पहले कोरोनाकाल में जिन 4500 लोगों पर महामारी एक्ट के तहत मकदमे दर्ज किए गए थे, उन मुकदमों को सरकार ने वापस लिया। इनमें से अधिकांश मुकदमे उन लोगों पर दर्ज थे जो कारोनाकाल में जरूरतमंदों की मद्द में लगे हुए थे।
उन्होंने कहा कि विकास प्राधिकरणों की मनमानी से पहाड़ी क्षेत्र के लोग त्रस्त थे। हमारी सरकार ने देर लगाए बगैर पहाड़ी जिलों में प्राधिकारणों का अस्तित्व समाप्त कर दिया है। कुंभ स्नान के लिए देश-विदेश के सभी श्रद्धालुओं को कुंभ स्नान के लिए हरिद्वार आंमंत्रित किया गया है। कुम्भ मेले के लिए केन्द्र सरकार की गाइडलाइन का ध्यान रखा जाएगा परंतु अनावश्यक रोक टोक नहीं होगी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना के प्रभाव से घर लौटे प्रवासी उत्तराखण्डियों को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराए जा रहे हैं। उन्हें स्वरोजगार शुरू करने के लिए ब्याज रहित ऋण मुहैया करवाया जा रहा है। उनकी हर समस्या का समाधान सरकार करेगी। उन्होंने उत्तराखण्ड मूल के लोगों से आग्रह किया कि वे भी उत्तराखण्ड राज्य के विकास और जनकल्याण में अपना योगदान दें।
इस मौके पर नैनीताल के सांसद श्री अजय भट्ट, कैबिनेट मंत्री श्री अरविन्द पाण्डेय, पूर्व सांसद श्री बलराज पासी समेत कई गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

Related posts

‘कुछ नौजवान पत्थर मारते हैं, कुछ पत्थर काटकर विकास का रास्ता बनाते हैं’

Rahul srivastava

‘हर घर नल’ योजना के तहत केंद्र सरकार ने उत्तर प्रदेश में 735 पेयजल आपूर्ति योजनाओं को दी मंजूरी

Neetu Rajbhar

इलाहाबाद विवि छात्रसंघ और NSUI का विरोध प्रदर्शन, जानिए इसका कारण

Shailendra Singh