January 23, 2022 9:20 pm
featured यूपी

TET Exam Leak मामले पर योगी सरकार सख्त, आरोपियों के खिलाफ गैंगेस्टर एक्ट के तहत दर्ज हुआ मुकदमा

yogi 1 TET Exam Leak मामले पर योगी सरकार सख्त, आरोपियों के खिलाफ गैंगेस्टर एक्ट के तहत दर्ज हुआ मुकदमा

TET Exam Leak || मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टीईटी की परीक्षा लीक TET Exam Leak मामले को काफी गंभीरता से लिया है। उन्होंने आरोपियों के खिलाफ गैंगेस्टर एक्ट के तहत मुकदमा, उनकी संपत्ति जब्त कराने और राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं। साथ ही उन्होंने परीक्षार्थियों को राहत देते हुए आई कार्ड दिखाकर उत्तर प्रदेश परिवहन निगम की बसों में फ्री में आने जाने की सुविधा देने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा अभ्यर्थियों से दुबारा परीक्षा के लिए कोई भी अतिरिक्त शुल्क नहीं लिया जाएगा।

ये भी पढ़े: ओमीक्रॉन वेरिएंट को लेकर यूपी में तैयारी तेज, अलर्ट मोड पर काम करेंगी योगी सरकार

सीएम योगी ने यह बातें रविवार को देवरिया में दो सौ करोड़ से अधिक की लागत से बने परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास कार्यक्रम के दौरान कहीं। उन्होंने कहा कि पिछले साढ़े चार साल में चार लाख से अधिक भर्ती निष्पक्ष तरीके से की गई है और आगे भी यह व्यवस्था जारी रखेंगे। नौकरी हो या कोई भी टेस्ट पूरी पारदर्शी और ईमानदारी से आगे बढ़ना चाहिए। आज सुबह जब मुझे समाचार मिला कि बीटीसी टीईटी का टेस्ट था। एक गिरोह ने कहीं से पेपर लीक किया है। हमने कहा, पूरे पेपर को अभी निरस्त करो, पूरे गिरोह को गिरफ्तार करो। उन सभी बच्चों को सकुशल उनके घर तक पहुंचाओ। एक महीने के अंदर पारदर्शी तरीके से फिर से परीक्षा आयोजित करो। किसी भी बच्चे से कोई अतिरिक्त शुल्क नहीं लेंगे। उनके आने जाने की फ्री में व्यवस्था देंगे या उन बच्चों का जो आई कार्ड होगा, उत्तर प्रदेश परिवहन की बसों में फ्री में आने जाने की सुविधा मिलेगी, लेकिन जिन लोगों ने यह शरारत की है, वह भी सुन लें कि उनके खिलाफ गैंगेस्टर के तहत मुकदमा दर्ज हो रहा है, उनकी संपत्ति को जब्त कराने और राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्यवाही होगी। 

युवाओं के साथ किसी को भी खिलवाड़ करने की छूट नहीं देंगे: सीएम

सीएम योगी ने कहा कि उत्तर प्रदेश के युवाओं के जीवन के साथ कोई खिलवाड़ करेगा, तो उसे सोच लेना चाहिए कि उसके साथ क्या होगा? उत्तर प्रदेश के युवाओं के साथ किसी को भी खिलवाड़ करने की छूट नहीं देंगे। अच्छी कानून व्यवस्था के कारण प्रदेश में हर नौजवान के लिए नौकरी की संभावना को आगे बढ़ाकर एक करोड़ 61 लाख से अधिक नौजवानों को नौकरी और रोजगार की सुविधा दी गई। एक जनपद, एक उत्पाद और विश्वकर्मा श्रम सम्मान के माध्यम से स्वत: रोजगार के साथ 60 लाख से अधिक लोगों को जोड़ने का कार्य हुआ।

Related posts

UPSC NDA Result 2020: जाारी हुआ एनडीए फाइनल परीक्षा का रिजल्ट, ऐसे करे चेक

Pooja

सम्पन्न  हुआ उत्तराखण्ड सूचना कर्मचारी संघ की कार्यकारिणी का चुनाव, नवनिर्वाचित महामंत्री बने सुरेश चन्द्र भट्ट

Rani Naqvi

….तो क्या कांग्रेस के नारों के सहारे अगले साल लोकसभा के चुनावी मैदान में उतरेगी BJP? ट्वीटर पर ट्रोल हुए अमित शाह

rituraj