January 18, 2022 1:23 pm
यूपी राज्य

उत्तर प्रदेश: बलिया के जिलाधिकारी ने परीक्षाओं के चलते महाविद्यालयों पर लगाई मजिस्ट्रीयल ड्यूटी

0ee4be22 9242 42ae 8de0 76f6d0d14db4 उत्तर प्रदेश: बलिया के जिलाधिकारी ने परीक्षाओं के चलते महाविद्यालयों पर लगाई मजिस्ट्रीयल ड्यूटी

बलिया। उत्तर प्रदेश के बलिया में स्थित जननायक चन्द्रशेखर व महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ की सेमेस्टर 2017-18 की परीक्षा को बिना किसी रूकाटव के करवाने के लिए जिलाधिकारी सुरेंद्र विक्रम ने कॉलेज अधिकारियों की के साथ बैठक की। इस बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि कॉलेज के अधिकारी कॉलेज में परीक्षा को शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न करवाएं।  सतीशचन्द कालेज पर जिला बचत अधिकारी हरेंद्र ओझा, टीडी कालेज पर सेवायोजन अधिकारी एके पांडेय, अमरनाथ मिश्र डिग्री कालेज दूबेछपरा पर खादी ग्रामोद्योग अधिकारी शिवकुमार, देवेंद्र डिग्री कॉलेज बेल्थरारोड पर खाद्य सुरक्षा अधिकारी विपिन गिरि को बतौर मजिस्ट्रेट लगाया है।

0ee4be22 9242 42ae 8de0 76f6d0d14db4 उत्तर प्रदेश: बलिया के जिलाधिकारी ने परीक्षाओं के चलते महाविद्यालयों पर लगाई मजिस्ट्रीयल ड्यूटी

इसी प्रकार फुलेहरा स्मारक महाविद्यालय रसड़ा पर खाद्य सुरक्षा अधिकारी चन्द्रप्रकाश यादव, रमाशंकर डिग्री कॉलेज उधरन के लिए दिनेश राय, रामकरण डिग्री कॉलेज भीमपुरा नं-1 पर एक्सईएन बाढ़ दिलीप चतुर्वेदी, नरहेंजी महाविद्यालय नरहीं पर बीडीओ रसड़ा रामआशीष, बाबा रामदल सूरजदेव महाविद्यालय माधोपुर पकवाइनार पर बीडीओ गड़वार प्रभात सिंह, फतेहबहादुर सिंह शिवशंकर सिंह महाविद्यालय ससना बहादुरपुर बेल्थरा के लिए बीडीओ सीयर पीएन त्रिपाठी की मजिस्ट्रीयल ड्यूटी लगाई है। उन्होंने बताया कि जननायक यूनिवर्सिटी से सम्बद्ध महाविद्यालयों की सेमेस्टर परीक्षा 2017-18 मंगलवार से प्रारम्भ हो गयी है, जो 21 दिसम्बर तक पहली पाली में सुबह 8ः30 से 11ः30 बजे तक होगी। यह भी बताया कि काशी विद्यापीठ की तृतीय व पंचम सेमेस्टर की परीक्षा भी 21 दिसम्बर तक दोपहर 1ः30 बजे से 4ः30 बजे तक होगी।

जिला मजिस्ट्रेट सुरेंद्र विक्रम ने जनपद के दो इमिनेंट केबिल एमएसओ संचालनकर्ताओं से कुल 29 लाख 15 हजार 472 रूपये के मनोरंजन कर की वसूली करने का आदेश दिया है। इसमें राहुल श्रीवास्तव मेसर्स इमिनेन्ट  के बिल प्रावि का 10 लाख 59 हजार 72 रूपये और शशांक कुमार सिंह प्रालि रामपुर उदयभान पर 18 लाख 56 हजार 400 रूपये शामिल है। इस मौके पर डीएम ने बताया कि के बिल सेवा के मामले में के बिल सेवा नियंत्रण कक्ष के बहुप्रणाली ऑपरेटर सम्बन्धित कर के लिए जिम्मेदार होता है।  इनके द्वारा सितम्बर 2016 में लोकल केबिल आपरेटरों की सेट ऑफ बॉक्स की संख्या 3152 तथा प्रति ग्राहक 1200 रूपये लेना बताया गया था।

Related posts

हिमाचल में बीजेपी की लड़ाई चरम पर पहुंची: कांग्रेस

Rani Naqvi

सूचना आयुक्तों के चयन के सम्बंध में सीएम रावत की अध्यक्षता में गठित चयन समिति की बैठक आयोजित

Rani Naqvi

यूपी विधानसभा लाया गया कल्याण सिंह का पार्थिव शरीर

Aditya Mishra