featured क्राइम अलर्ट राज्य

मनीष गुप्ता हत्याकांड में फोरेंसिक टीम ने होटल के कमरे की जांच, चौंकाने वाला सच आया सामने

मनीष गुप्ता हत्याकांड मनीष गुप्ता हत्याकांड में फोरेंसिक टीम ने होटल के कमरे की जांच, चौंकाने वाला सच आया सामने

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले के रामगढ़ताल इलाके में कानपुर के कारोबारी मनीष गुप्ता की हत्याकांड में मामले में मंगलवार रात 2 घंटो तक फोरेंसिक की टीम ने होटल कृष्णा पैलेस के कमरे की जांच की है। जबकि फोरेंसिक टीम के पहुंचने से पहले ही कमरे की सफाई हो चुकी थी। जिस कारण से कुछ खास नहीं मिल सका। फोरेंसिक टीम को कूड़ेदान में शराब की खाली बोतल व सिगरेट का डिब्बा, खून लगे कुछ कपड़े मिले हैं, जिसे नमूने के लिए भेजा गया है। इसके अलावा जानकारी के अनुसार बुधवार शाम लगभग छह बजे टीम होटल कृष्णा पैलेेस के कमरे में पहुंची। जहां कारोबारी की मौत हुई थी। इस कमरे की सफाई हो जाने की वजह से कुछ खास नहीं मिल सका है। जबकि फोरेंसिक टीम रात करीब 8:15 बजे तक कमरे में मौजूद रही थी। इस कमरे जांच की गई। 

इस कमरे में जो भी मिला है उसके आधार पर जांच की जा रही है। साथ ही अंगुलियों के निशान ढूंढे जा रहे हैं। जबकि फोरेंसिक टीम कुछ भी कहने को तैयार नहीं है। इसके अलावा तारामंडल क्षेत्र के होटल कृष्णा पैलेस में कारोबारी मनीष गुप्ता की मौत कैसे हुई। इसे जानने के लिए पुलिस सीन री-क्रिएट करेगी। जिसके जरिए यह जानने की कोशिश की जाएगी कि कारोबारी की मौत कैसे हुई है। एसपी नार्थ मनोज अवस्थी ने कहा कि, मामले की जांच की जा रही है। कारोबारी के मौत का सीन री-किएट पुलिस जल्द कराएगी। इसकी मदद से समझ में आएगा कि आखिर उस रात असल में वहां पर हुआ क्या था।

इसके अलावा होटल कृष्णा पैलेस की सीसीटीवी फुटेज जब्त कारोबारी की हत्या की जांच गोरखपुर पुलिस ने शुरू कर दी है। 

होटल से सीसीटीवी फुटेज जब्त कर ली गई है। साथ ही होटल में जाने के लिए लिफ्ट, बरामदे की अलग-अलग फुटेज की जांच हो रही है। जल्द ही रामगढ़ताल थाना, मानसी अस्पताल व बीआरडी मेडिकल कॉलेज में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज की जांच भी की जाएगी। इस मामले में कारोबारी के दोस्तों का मेडिकल भी कराया गया है। हत्या केस दर्ज होने के बाद गोरखपुर पुलिस ने कारोबारी के साथ होटल के कमरे में ठहरे गुरुग्राम के हरवीर सिंह व प्रदीप कुमार का मंगलवार देर रात जिला अस्पताल में मेडिकल कराया। पुलिस ने दोनों के बयान दर्ज किए हैं। जिसके बाद दोनों दोस्त गोरखपुर से गुरुग्राम के लिए रवाना हो गए है। दोस्तों का कहना है कि, पुलिस जब भी पूछताछ या जांच के सिलसिले में बुलाएगी, वे आ जाएंगे। दोस्त मनीष गुप्ता की मौत से दुखी हैं। जांच-पड़ताल से पीछे नहीं हटेंगे। हर मौके पर खड़े रहेंगे। जो बयान दिया है, उससे पीछे नहीं हटेंगे।

 

Related posts

इराक की बड़ी कार्रवाई, एक साथ 38 आतंकवादियों को फांसी पर लटकाया

Breaking News

वैक्सीन की ले चुके हैं दोनों डोज, तो जानें WHO का नया फरमान

pratiyush chaubey

दीपावली पर क्यों चढ़ाया जाता हैं भगवान को खील और मीठे खिलौनों का प्रसाद

Breaking News