उत्पल कुमार सिंह ने उत्तराखण्ड परिवहन निगम को घाटे से उबारने के लिए कारगर उपाय करने के निर्देश दिए

देहरादून। मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह ने उत्तराखण्ड परिवहन निगम को घाटे से उबारने के लिए कारगर उपाय करने के निर्देश दिए। कहा कि किसी उच्च स्तरीय संस्था से घाटे के कारणों की स्टडी करायी जाय। संस्तुति के आधार पर निदान किया जाय। दूसरे राज्यों के निगमों को भी देख लिया जाय। निर्देश दिए कि सरकारी देयकों का भुगतान किश्तवार किया जाए।

 

 

बता दें कि मुख्य सचिव बीते मंगलवार को सचिवालय में परिवहन निगम निदेशक मंडल की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। बैठक में बताया गया कि इस समय निगम में 1410 बसें हैं। इसमें 77 वातानुकूलित बसें, 41 सेमि डिलक्स बसें, 46 वॉल्वो बसें और 1246 साधारण बसें शामिल हैं। तय किया गया कि वाह्य स्रोत कर्मियों के भी ड्यूटी के दौरान दुर्घटनाग्रस्त होने पर 02 लाख रुपये की आर्थिक सहायता दी जाएगी। गंभीर रूप से घायल होने पर 50 हजार रुपये की मदद की जाएगी। बैठक में प्रबंध निदेशक परिवहन निगम श्री बृजेश संत सहित अन्य सदस्य उपस्थित थे।