September 23, 2021 12:15 pm
धर्म Breaking News

UPSC सिविल सेवा 2019 का आया परिणाम, प्रदीप सिंह ने किया टॉप

यूपीएससी

संघ लोक सेवा आयोग हर साल परीक्षा कराता है। UPSC में सबसे पहले प्री एग्जाम होता है इसके बाद मेन्स एग्जाम कराया जाता है। इन सबको पास आउट करने के बाद इंटरव्यू होता है। 2019 में हुई परीक्षा का परिणाम घोषित कर दिया गया है। जिसमे प्री और मेन्स के बाद इंटरव्यू को कराया गया था। लॉकडाउन के चलते अन्तर को स्थगित कर दिया गया था लेकिन जो बच्चे इंटरव्यू के लिए गए उन्हें बहुत एहतियात बरती गयी थी। जो बच्चे इंटरव्यू के लिए दिल्ली गए उन्हें एहतियात के लिए किट दी गयी जिसमे फेस मास्क, फेस शील्ड और सैनिटाइजर की एक बोतल और दस्ताने दिए गए थे जिससे खुदको संक्रमण के दूर रखा जा सके और साथ ही बच्चों को मुवावजा देने की बात की गयी है। ये सभी इंतजाम कोरोना काल के चलते किये गए है। जिससे सभी बच्चों को सुरक्षा दी जा सके। आपको बता दें कि इंटरव्यू को कुछ समय के लिए ताल दिया गया था। लेकिन जो बच्चे समय पर इंटरव्यू के लिए दिल्ली पहुंच गए थे उनका इंटरव्यू कराया गया।

परिणाम किया गया घोषित

यूपीएससी सिविल सेवा 2019 का परिणाम मंगलवार को घोषित किया गया। यूपीएससी सिविल सेवा 2019 में प्रदीप सिंह ने टॉप किया है। प्रदीप सिंह ने टॉप करते हुए पहला स्थान प्राप्त किया है। दूसरे स्थान पर जतिन किशोर रहे है और तीसरा स्थान प्रतिभा वर्मा ने हासिल किया है। यूपीएससी सिविल सर्विस के एग्जाम के लिए इंटरव्यू 20 जुलाई से शुरू हुए थे। जिनका रिजल्ट जारी कर दिया गया है। रिजल्ट को यूपीएससी की ऑफिशल वेबसाइट पर जाकर यूपीएससी सिविल सर्विस के रोल नंबर से चेक किया जा सकता है।

यूपीएससी ने मुवावजा देने का किया फैसला

यूपीएससी ने अपने एक बयान में कहा है कि लॉक डाउन के चले रेल सेवा बाधित थी। इसलिए पर्सनालिटी टेस्ट के लिए दिल्ली आये बच्चों को आने जाने का मुवावजा देने की बात कही है। साथ ही इस फैसले को अंतिम रूप देते हुए मुवावजा देने का फैसला किया है।

कोरोना के चलते दी गयी सुविधाएं

आपको बता दें कि यूपीएससी सिविल सर्विस के लिए तीन पड़ाव होते है इसमें पहला पड़ाव प्रीलिम्स और इसके बाद मेन्स कराया जाता था। मेन्स क्लियर होने के बाद इंटरव्यू कराया जाता है। इस बार कोरोना काल के चलते इंटरव्यू को स्थगित कर दिया गया था। फिर बाद में यूपीएससी ने बच्चों को बहुत साड़ी सुविधाएं देते हुए इंटरव्यू कराया गया। जिसमे बच्चों को शामिल किया गया।

पारिवार में है ख़ुशी की लहर

यूपीएससी का रिजल्ट आने के बाद पास होने वाले सभी बच्चों के लिए यह बहुत बड़ा ख़ुशी का मौका है। देशभर में पास होने वाले बच्चन के घरों पर भी ख़ुशी का माहौल है। साथी ही पास होने वाले बच्चों को बधाई दी जा रही है। जिन बच्चों ने टॉप किया है। उनकी ख़ुशी का कोई ठिकाना नहीं है। परिवार के लोग भी मिठाइयां बाँटकर ख़ुशी जाहिर कर रहे है। साथ ही आस पास के लोग भी उन्हें बधाईयां दे रहे है। आपको बता दे कि यूपीएससी सिविल सेवा की परीक्षा देश की बड़े लेवल की परीक्षा होती है। इस परीक्षा को पास करने वाले बच्चे बधाई के पात्र होते है क्योकि वो कड़ी मेहनत करके इस परीक्षा के कई पड़ाव को पार करते है तब जाकर उन्हें योग्य माना जाता है। यूपीएससी की परीक्षा देश की कठिन परीक्षा में से एक होती है। जिससे पास आउट करने के लिए बच्चे दिन रात एक कर देते है। तब जाकर मुकाम हासिल होता है। इस बार परीक्षा में पास हुए बच्चों को इंटरव्यू में बहुत सारी सुविधाएँ दी गई है। यूपीएससी हर बार इस तरह से सुविधाएँ नहीं देता है जैसी सुविधाएँ इस बार दी गयी है। कोरोना को देखते हुए इस बार बच्चों को बहुत कठनाईयो का सामना करना पड़ा। फिर भी बच्चों ने इंटरव्यू में शामिल होकर हिम्मत दिखाने का काम किया है। इसको लेकर यूपीएससी ने भी बच्चों की सरहाना की है।

Related posts

बीएसपी रैली: तीन की मौत, सीएम और मायावती ने किया मुअावजे का एलान

Rahul srivastava

130 बच्चों की मौत पर राज्यसभा सदस्यों ने की मुआवजा देने की मांग

bharatkhabar

क्या होता है महाभियोग? क्या है इसकी प्रक्रिया और इससे पहले कब लाया गया?

rituraj