featured यूपी

यूपी: नवरात्रि, दशहरा और चेहल्लुम के लिए सीएम योगी ने जारी की नई गाइडलाइंस, दिए निर्देश

yogi adityanath 6998322 835x547 m यूपी: नवरात्रि, दशहरा और चेहल्लुम के लिए सीएम योगी ने जारी की नई गाइडलाइंस, दिए निर्देश

उत्तर प्रदेश सरकार ने शारदीय नवरात्रि, विजयादशमी, दशहरा और चेहल्लुम के मद्देनजर कानून-व्यवस्था और सांप्रदायिक सद्भाव बनाए रखने के लिए दिशा-निर्देश जारी किए हैं।

निर्देशों का पालन करना जरूरी

इन त्योहारों के अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य सरकार द्वारा कोविड-19 महामारी की रोकथाम के लिए दिए गए निर्देशों का कड़ाई से अनुपालन करने को कहा है।

यह रहे नए निर्देश

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी द्वारा जारी निर्देशों में कहा गया है कि दुर्गा पूजा पंडाल व रामलीला मंच के स्थापना की अनुमति प्रदान करते समय इस बात का ध्यान रखा जाए कि सार्वजनिक आवागमन प्रभावित न हो। मूर्तियों की स्थापना पारंपरिक परंतु खाली स्थान पर की जाए। उनका आकार यथासंभव छोटा रखा जाए मैदान की क्षमता से अधिक लोग न रहे। मूर्तियों के विसर्जन में यथासंभव छोटे वाहनों का प्रयोग किया जाए और मूर्ति विसर्जन कार्यक्रम में न्यूनतम व्यक्ति ही शामिल हो।

मूर्ति विसर्जन में ज्यादा लोग ना शामिल

मूर्ति विसर्जन आदि के समय निर्धारित सीमा से अधिक लोग न हो तथा शारीरिक दूरी व मास्क पहनने के नियमों का पालन अवश्य किया जाए। यह सुनिश्चित किया जाए कि किसी भी धार्मिक स्थल पर क्षमता से अधिक लोगों की भीड़ एकत्र न होने पाए।

यह भी पढ़े

 

अल्मोड़ा: वर्षों पुरानी सीवर लाइन निर्माण की मांग हुई पूरी , 25 करोड़ का बजट हुआ स्वीकृत

 

यातायात पर ना पड़े कोई असर

निर्देशों में कहा गया है कि यह सुनिश्चित किया जाए कि यातायात कदापि बाधित न हो एवं बैरियर व पुलिस चेक पोस्ट लगाकर संदिग्ध वाहनों की चेकिंग कराई जाए और मोटर वाहन अधिनियम के नियमों का सख्ती से पालन किया जाए। साथ ही जन सुविधाएं यथा बिजली पेयजल एवं साफ सफाई पर भी विशेष ध्यान देने के लिए कहा गया है।

कोरोना नियमों का किया जाए पालन

जिला व पुलिस प्रशासन के अधिकारियों को निर्देशित किया गया है कि वे सुनिश्चित करें कि इस अवसर पर सामाजिक एवं सांप्रदायिक सौहार्द बना रहे और सुरक्षा व्यवस्था इस प्रकार सुनिश्चित की जाए कि किसी भी तरह की कानून-व्यवस्था की समस्या उत्पन्न न होने पाए। संवेदनशील क्षेत्रों व अन्य स्थानों पर भी मोबाइल पेट्रोलिंग कराई जाए। जिला प्रशासन से अपेक्षा की गई है कि अनुमति इस शर्त के साथ दी जाए कि कोविड-19 प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन किया जाए।

Related posts

इलेक्ट्रिक बसें करेंगी 7 जिलों को प्रदूषण मुक्त, आखिर कैसे होगा बदलाव

Aditya Mishra

विराट ने पूरा किया राठौर का चैलेंज, मोदी और अनुष्का को दिया चैलेंज

mohini kushwaha

वीडियो शेयर कर राहुल गांधी ने साधा पीएम मोदी पर निशाना,

mahesh yadav