yogi कोरोना वैक्सीन के मामले में आत्मनिर्भर बनेगा यूपी!
  • यूपी में लगेगा प्लांट, हर महीने दो करोड़ को-वैक्सीन बनेगी
  • कोरोना से लड़ाई में वैक्सीन बनाने में आत्मनिर्भर बनने की ओर उत्तर प्रदेश का महत्वपूर्ण कदम

लखनऊ। भयावह रूप ले चुके कोरोना के खिलाफ उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने बेहद ही महत्वपूर्ण निर्णय लिया है। कोरोना के खिलाफ जारी जंग को धार देने के लिए यूपी में को-वैक्सीन बनाने का प्लांट लगाया जाएगा। इस प्लांट की मदद से हर महीने दो करोड़ वैक्सीन बनेंगी। जो यूपी के साथ-साथ देश की जनता के लिए जीवनदायिनी साबित होंगी।

कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में अहम भूमिका निभाने वाली को वैक्सीन का उत्पादन अब उत्तर प्रदेश में भी होगा। बुलंदशहर के चोला इंडस्ट्रियल एरिया में स्थित बिबकोल कंपनी में को-वैक्सीन बनाई जाएगी। इसके लिए केन्द्र सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय ने हरी झंडी दे दी है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने इसके लिए 30 करोड़ रुपये का बजट भी स्वीकृत कर दिया है। को-वैक्सीन बनाने वाली कंपनी भारत बायोटेक ने बिबकोल के साथ एमओयू साइन किया है। इस दवा फैक्ट्री में अभी तक पोलियो वैक्सीन का उत्पादन किया जाता है।

कंपनी के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक जो मौजूदा इंफ्रास्ट्रक्चर है उसी में को वैक्सीन की मैन्युफैक्चरिंग शुरू की जा सकती है। मौजूदा समय में कंपनी के पास 250 मिलियन पोलियों वैक्सीन का निर्माण किया जाता है, जबकि कंपनी की उत्पादन क्षमता 600 मिलियन सालाना की है। ऐसे में बड़ी संख्या में  को वैक्सीन का निर्माण किया जा सकता है।

हर महीने बनेगी 2 करोड़ डोज

बुलंदशहर स्थित बिबकोल की फैक्ट्री से हर महीने 2 करोड़ को वैक्सीन की डोज तैयार होगी। जिसका वितरण उत्तर प्रदेश के साथ-साथ देश के अन्य राज्यों में भी किया जाएगा। जानकारों के मुताबिक उत्तर प्रदेश में उत्पादन होने के नाते इसका लाभ उत्तर प्रदेश को मिलेगा। ये पहला मौका है जब उत्तर प्रदेश में को-वैक्सीन का निर्माण किया जाएगा।

अगस्त से शुरू हो जाएगा उत्पादन

इस वैक्सीन का उत्पादन अगस्त से किया जाएगा। बिबकोल यानि भारत इम्यूनोजिकल एंड बायोलॉजिकल लिमिटेड भारत सरकार की कंपनी है। यह कंपनी  मौजूदा समय में पोलियो वैक्सीन का उत्पादन करती है। देश में जितने भी पोलियो की वैक्सीन का उत्पादन होता है। उसका 60 प्रतिशत हिस्से का उत्पादन बिबकोल ही करती है।

DRDO की एंटी कोरोना दवा 2DG लॉन्च, एक से दो दिनों में मरीजों तक पहुंचेगी दवा

Previous article

झांसी में दर्दनाक हादसा, खतरनाक तरीके से गई पांच लोगों की जान

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.