मिशन 2022: उन्‍नाव से अखिलेश यादव ने फूंका चुनावी बिगुल, BJP पर ऐसे किया वार

उन्‍नाव: समाजवादी पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अखिलेश यादव ने मिशन 2022 के लिए अपनी कमर कस ली है। बुधवार को वह लखनऊ से रथ यात्रा लेकर उन्नाव पहुंचे, जहां उन्‍होंने निषाद समाज के सबसे बड़े नेता मनोहर लाल की प्रतिमा का अनावरण किया।

मिशन 2022: उन्‍नाव से अखिलेश यादव ने फूंका चुनावी बिगुल, BJP पर ऐसे किया वार

पूर्व मंत्री मनोहर लाल की 85वीं जयंती पर जनता को संबोधित करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि, मनोहर लाल जी ने हक की लड़ाई लड़ी और दलित पिछड़ों को हक दिलाने में कामयाब रहे। उन्‍होंने कहा, समाजवादियों को प्रशासन से कोई शिकायत नहीं है। कोविड प्रोटोकॉल के तहत हमें सिर्फ 50 लोगों की जनसभा की अनुमति दी गयी, लेकिन कोविड प्रोटोकाल खत्म होने पर सपा की बड़ी रैली होगी।

कोरोना मैनेजमेंट पर साधा निशाना

कोरोना मैनेजमेंट पर यूपी सरकार पर निशाना साधते हुए पूर्व सीएम अखिलेश ने कहा कि, भाजपा की बातों पर कौन विश्वास करेगा। सभी ने देखा कि महामारी के दौरान गरीबों को इलाज की सुविधा नहीं मिली और इलाज के अभाव में लोगो की मौत हुई। इस महामारी में सपा कार्यकर्ताओं ने गरीबों को मदद की। गरीबों और बीमारों के लिए दवा और राशन आदि की व्यवस्था की। लोगों को ब्लैक में दवाएं लेनी पड़ी थीं।

सपा सुप्रीमो ने कहा, आज सरकार कह रही है कि कोविड से मौतें नहीं हुई हैं और बीजेपी अब इसलिए आंकड़े छुपा रही है ताकि लोगों को सही आंकड़े पता न चल सकें। सुप्रीम कोर्ट ने भी कहा कि कोरोना से हुई मौतों पर सरकार पीड़ितों को 4 लाख की मदद दे, लेकिन बीजेपी आंकड़े इसलिए छुपा रही है ताकि लोगों को मदद न देनी पड़े।

महंगाई को लेकर घेरा

बढ़ती महंगाई को लेकर अखिलेश यादव ने कहा कि, बीजेपी के शासन में महंगाई और बेरोजगारी बढ़ी है। किसानों की आय दोगुनी करने का वादा किया था, लेकिन किसानों आय की घट गई, बढ़ी नहीं। डीजल-पेट्रोल के दाम आसमान छू रहे हैं। साढ़े 4 साल में कोई फैक्ट्री नहीं लगी और नवजवानों को भुखमरी के कगार पर खड़ा कर दिया है। भाजपा ने वादा किया था लेकिन लैपटॉप नहीं दिया। महंगाई और बेरोजगारी के लिए बीजेपी जिम्मेदार है।

कानून व्‍यवस्‍था को लेकर किया वार  

सपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष ने पंचायत चुनाव में हुई हिंसा और कानून व्‍यवस्‍था पर भी बीजेपी को आड़े हाथों लिया। उन्‍होंने कहा कि, पंचायत चुनाव में BJP ने नोट का इस्तेमाल किया। बीजेपी के लोग लड़वाने का काम करते हैं। भाजपा ने सरकारी संस्थानों को बेच दिया है। सपा सरकार ने सबसे अच्छी पुलिसिंग दी थी, लेकिन बीजेपी सरकार में पुलिसिंग खराब हुई और कानून व्यवस्था ध्वस्त हुई है। चारों तरफ जंगलराज है।

प्रदेशवासियों से चुनावी वादे

उन्होंने कहा कि, अगर 2022 में सपा की सरकार बनती है तो लोहिया आवास की सुविधा, मुफ्त बिजली, किसानों और गरीबों को बिजली बढ़ाकर देंगे। सपा सरकार में कई बिजली कारखाने बन रहे थे, लेकिन बीजेपी सरकार ने उन कामों को पूरा नहीं किया। जनता बीजेपी से त्रस्त है और 2022 में जनता सपा के पक्ष में वोट कर समाजवादियों की सरकार बनवाएगी। बीजेपी का सफाया सिर्फ समाजवादी पार्टी ही कर सकती है, इसके लिए समाजवादी पार्टी जनता के बीच रहकर काम करेगी।

बुरे दौर से गुजर रहा होटल व्यवसाय, 25 फीसदी का नुकसान झेल रहे कारोबारी

Previous article

ऑनलाइन शॉपिंग सेल के हक में 72% ग्राहक, नहीं चाहते डिस्काउंट सेल पर लगे बैन

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured