‘भारतीय जासूस पार्टी’ है बीजेपी: अजय कुमार लल्लू
सरकारी आवास के बहार पुलिस से अजय कुमार लल्लू की कहा-सुनी

लखनऊ: कथित फोन टैपिंग मामले में गुरुवार को कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू के नेतृत्व में पार्टी के कार्यकर्ता एवं नेताओं का विरोध प्रदर्शन था। इस प्रदर्शन के दौरान राजधानी स्थित परिवर्तन चौक पर एकत्रित होकर शांति मार्च निकाल कर राज्यपाल को ज्ञापन सौंपना था। हालांकि प्रदर्शन से पहले ही कांग्रेस विधानमंडल दल की नेता आराधना मिश्रा मोना को हाउस अरेस्ट कर लिया गया, वहीं अजय कुमार लल्लू के आवास पर भी पुलिस का भारी पहरा मुस्तैद कर दिया गया।

‘भारतीय जासूस पार्टी’ है बीजेपी: अजय कुमार लल्लू

कांग्रेस विधानमंडल दल की नेता आराधना मिश्रा मोना प्रदर्शन से पहले हाउस अरेस्ट

भारतीय जासूस पार्टी है बीजेपी: अजय लल्लू

आवास के बाहर पुलिस का पहरा देख नाराज़ अजय कुमार लल्लू ने भारतीय जनता पार्टी को भारतीय जासूस पार्टी कह कर संबोधित किया। उन्होंने कहा कि सरकार राहुल गांधी का फ़ोन टैप कर उनके खिलाफ जासूसी करा रही है। पत्रकार, सामाजिक संगठन और तमाम राजनीतिक लोगों के खिलाफ जासूसी करने का काम कर रही है। जो लोग इसके खिलाफ आंदोलन कर रहे हैं उनके घरों के बाहर पुलिस का पहरा लगा कर उन्हें गिरफ्तार करने का काम कर रही है।

‘भारतीय जासूस पार्टी’ है बीजेपी: अजय कुमार लल्लू

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष के अवास के बाहर पुलिस का पहरा

सरकार दमन की राजनीति पर उतारू है

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा, ‘जो लोग किसान, नौजवान की बात कर रहे हैं, उनकी समस्याओं को सुन रहे हैं, सरकार उनके खिलाफ दमन की राजनीति कर रही है। उन्हें जेल भेजा जा रहा है, उनपर मुक़दमे लिखे जा रहे हैं। कांग्रेस पार्टी इनसब से डरने वाली नहीं है। हम इस सरकार के दमन के खिलाफ लड़ेंगे और मजबूती से लड़ेंगे। सरकार और पुलिस का पहरा हमें रोक नहीं पाएगा।’

देश में अघोषित आपातकाल, सबको डराना चाहती है भाजपा

अजय कुमार लल्लू ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि आज देश में अघोषित आपातकाल की स्थिति है। भाजपा, संस्थाओं समेत विपक्ष को डराने का काम कर रही है। आज राहुल गांधी सहित विपक्ष, वकीलों, पत्रकारों के फ़ोन टेप करना ये दर्शाता है कि भाजपा का लोकतंत्र में यकीन नहीं है।

हिरासत में लिए गए अजय लल्लू, भेजे गए ईको गार्डन

इन सब के बीच कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू शांति मार्च के लिए अपने आवास से निकले। उन्हें गेट पर ही पुलिस द्वारा रोक लिया गया। इस दौरान अजय लल्लू और कांग्रेस कार्यकर्ताओं की पुलिस से कहा-सुनी भी हुई, साथ ही झड़प भी हुई। पुलिस ने अजय कुमार लल्लू समेत कई कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को जबरन गाड़ियों में भर कर ईको गार्डेन भेजा।

आवास के बाहर पुलिस के पहरे से नाराज़ अजय लल्लू, भाजपा पर साधा निशाना

जबरन पुलिस की गाड़ी में बैठाए गए कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष

पहले से ही कई कांग्रेसी नेता थे नज़रबंद

वहीं कांग्रेस प्रवक्ता अशोक सिंह ने जानकारी दी है कि आराधना मिश्रा, नसीमुद्दीन सिद्दीकी, दीपक सिंह (एमएलसी) सहित अन्य नेता बुधवार रात से ही नजरबंद हैं।

उत्तराखंड: सरकारी विभागों में रिक्त पदों को भरने में लगी सरकार, जल्द मिलेगी युवाओं को सौगात

Previous article

लखनऊः यूपी में मानसून बना आफत, जनिए क्या होता है ऑरेंज और येलो अलर्ट?

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.