featured यूपी

फतेहपुर में ब्‍लॉक प्रमुख पद के नामांकन के दौरान झड़प, सपाइयों का बड़ा आरोप

फतेहपुर में ब्‍लॉक प्रमुख पद के नामांकन के दौरान झड़प, सपाइयों का बड़ा आरोप

फतेहपुर: जिले में ब्‍लॉक प्रमुख पद के नामांकन के दौरान सपा और भाजपा समर्थकों के बीच जमकर झड़प हुई। इस दौरान मौके पर मौजूद पुलिसकर्मी मूक दर्शक बने रहे। पूरे घटनाक्रम पर जहां समाजवादी पार्टी के जिला अध्यक्ष विपिन यादव ने बीजेपी पर लोकतंत्र की हत्या करने का आरोप लगाया तो वहीं बीजेपी जिलाध्यक्ष आशीष मिश्र ने मीडिया से दूरी बना ली है।

गुरुवार को तेलियानी विकासखंड परिसर के आसपास भारी पुलिस बल मुस्तैद था, लेकिन ब्लॉक प्रमुख पद पर हुए नामांकन के दौरान यह मुस्तैदी हवा हवाई हो गयी। अचानक बीजेपी और सपा प्रत्याशियों के समर्थकों के आमने-सामने आ जाने से झड़प होनी शुरू हो गई।

प्रत्‍याशी-समर्थकों के बीच धक्‍का-मुक्‍की

समाजवादी पार्टी ने तेलियानी से ब्लॉक प्रमुख पद के लिए आशा देवी को प्रत्याशी घोषित किया था तो वहीं, बीजेपी ने पुष्पा देवी को अपना प्रत्याशी बनाया है। दोपहर में दोनों पार्टियों के प्रत्याशी और समर्थक तेलियानी विकास खंड के बाहर जा पहुंचे। इसी बीच दोनों ओर से नारेबाजी होने लगी और धक्का-मुक्की शुरू हो गयी।

सपा का नामांकन पत्र छीनने-फाड़ने का आरोप

नामांकन के दौरान समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष विपिन यादव ने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि, हमारे प्रत्याशी से पर्चा छीनकर फाड़ा गया। हमारे वाहनों के साथ तोड़फोड़ करते हुए हमें नामांकन करने से रोका गया। जिस तरह से ये सब हुआ उससे यही लगता है कि बीजेपी अपने बाहुबल से लोकतंत्र की हत्या करना चाहती है। हालांकि, जोरदार प्रदर्शन के कारण हमारे प्रत्याशी का नामांकन हुआ।

Related posts

शिक्षकों को नहीं पता अपने अधिकारियों का नाम, टेस्ट में बच्चे और अध्यापक हुए फेल

Pradeep sharma

राम मोहन राव के घर से IT ने जब्त किया 30 लाख रुपये और 5 किलो सोना

shipra saxena

22 मार्च 2023 का राशिफल, जानें आज का पंचांग, तिथि और राहुकाल

Rahul