UP: चंद्रशेखर का ऐलान- मानसून सत्र में विधानसभा घेरेगी ASP, जानिए वजह
आजाद समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद

लखनऊ: आजाद समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद ने कहा है कि हमारा उद्देश्य समता मूलक भारत का निर्माण करना है और इसके लिए ASP निरंतर काम कर रही है। दरअसल, चंद्रशेखर ने गुरुवार को राजधानी स्थित प्रेस क्लब में संबोधन दिया और कहा कि ‘बहुजन साईकिल यात्रा’ के माध्यम से प्रदेश की सभी 403 विधानसभा में जाकर आजाद समाज पार्टी ने जनता को सत्तारूढ़ भाजपा की दमनकारी नीतियों से अवगत कराया है।

उन्होंने कहा है कि, हम बहुजन समाज के लोगों में चेतना का निर्माण कर रहे हैं जिसका परिणाम आने वाले समय में जरूर देखने को मिलेगा। चंद्रशेखर ने कहा है कि बहुजन साइकिल यात्रा का पहला चरण 21 जुलाई को समाप्त हुआ है और दूसरे चरण की घोषणा अगस्त माह में की जाएगी।

इस सरकार में दलितों पर अत्याचार बढ़ा

वहीं भाजपा और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए एएसपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चंद्रशेखर ने कहा है कि दलितों पर जितना अत्याचार इस सरकार में हुआ है, उतना कभी नहीं हुआ है। वोट मांगने के लिए उन्हें सपने दिखाए गए और सरकार में आने के बाद उन्हीं को प्रताड़ित किया जा रहा है। उन्होंने कहा, 69000 शिक्षक भर्ती मामले में आरक्षण घोटाला ये साबित करता है कि ये सरकार दलित विरोधी है। ब्लॉक प्रमुख चुनाव में जो लखीमपुर में हुआ वो शर्मनाक है, मुख्यमंत्री ऐसी के कमरे में बैठे देखते रहे। अधिकारी व प्रशासन भी मौन रहा, वोटों को लूटा गया, ये संविधान और लोकतंत्र का हिस्सा नहीं है।

विधानसभा का घेराव कर अपनी ताकत दिखाएंगे: चंद्रशेखर

एएसपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा है कि 69000 शिक्षक भर्ती में आरक्षण घोटाला का आरोप लगाने वाले अभ्यर्थियों पर लाठियां चलाई जा रही हैं। उनका हाथ तोड़ दिया जा रहा है, अभ्यर्थी गोमती में कूदने को मजबूर हों रहे हैं। आज़मगढ़ में पिछड़ी जाति के एक व्यक्ति का मकान पुलिस द्वारा ध्वस्त कर दिया गया। आधी रात को एक दलित बहन का शव जला दिया गया। दलित और पिछड़ों के साथ ऐसा व्यव्हार उचित नहीं है। चंद्रशेखर आजाद ने कहा है कि मानसून सत्र की शुरुआत होने के साथ ही आजाद समाज पार्टी विधानसभा का घेराव करेगी और सरकार को ताकत का एहसास कराएगी।

धमकी देने पर उतारू हैं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

चंद्रशेखर ने मुख्यमंत्री के उस बयान की निंदा की है जिसमें उन्होंने ‘संपत्ति जब्त’ होने की बात की थी। चंद्रशेखर ने कहा है कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री धमकी दे रहे हैं। हम इन धमकियों से धरने वाले नहीं है। उन्होंने कहा, ‘हमारे भाई, हमारी बहनें, आपके पास रोज़गार मांगने आ रहे हैं और आप उनपर लाठियां बरसा रहे हैं। उन्हें चोटें पहुंचाई जा रही हैं, ये कहां का न्याय है।’ चंद्रशेखर ने कहा है कि सरकार कहती है कि ऑक्सीजन की वजह से किसी की जान नहीं गई, इसका मतलब है कि लोगों ने खुद ही गाला घोट लिया है।

Lucknow: सीएम योगी का संकल्प, एक भी बच्चा नहीं रहेगा निराश्रित

Previous article

चंद्रशेखर बोले- अधिकार मांगने पर लाठियां मिली, जब वोट मांगने आएंगे तब…

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.