September 18, 2021 4:06 pm
Breaking News featured यूपी

भाजपा ने सत्ता के बलबूते सरकारी मशीनरी को अपना चुनावी एजेंट बनाया: अखिलेश यादव

भाजपा ने सत्ता के बलबूते सरकारी मशीनरी को अपना चुनावी एजेंट बनाया: अखिलेश यादव

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने रविवार को एक बार फिर सत्‍ताधारी भारतीय जनता पार्टी पर आरोपों की झड़ी लगा दी। उन्‍होंने कहा कि, भाजपा सरकार में संवैधानिक संस्थाओं की विश्वसनीयता को कमजोर किया जा रहा हैं। भाजपा ने सत्ता के बलबूते सरकारी मशीनरी को अपना चुनावी एजेंट बना लिया है।

सपा सुप्रीमो ने कहा कि, जनमत का दुरुपयोग कर भाजपा ने लोकतंत्र की पारदर्शिता को संदिग्ध कर दिया है। वर्ष 2022 का चुनाव देश बचाने का है। संवैधानिक अधिकारों पर हो रहे हमलों से गहरी निराशा फैल रही है। इन हालात में जनता का भरोसा समाजवादी पार्टी पर ही बढ़ रहा है। उन्‍होंने कहा, सरकार लोक-लाज और भरोसे से चलती है। निर्वाचित सरकारों को जवाबदेह होना चाहिए, लेकिन भाजपा सरकार इस जिम्मेदारी से बचने की कोशिश करती है। अच्छे दिन के नाम पर जनता को गुमराह करना ही भाजपा की नीति है।

चुनाव आयोग की भूमिका सरकार की पिछलग्गू तक

पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने कहा कि, सरकारी एजेंसियों का दुरुपयोग कर विपक्षी दलों के नेताओं को अपमानित करने का षड्यंत्र सरकार के इशारे पर लगातार किया जा रहा है। हाल ही में संपन्‍न हुए पंचायत चुनावों में पुलिस-प्रशासन द्वारा जिस प्रकार का उत्पीड़न हुआ है वह लोकतंत्र के लिए खतरा है। चुनावी प्रक्रिया में निर्वाचन आयोग की भूमिका सरकार की पिछलग्गू तक सीमित होती जा रही है। यह अनुचित है।

अखिलेश यादव ने कहा कि, राजनीति की पवित्रता को भाजपा ने प्रभावित किया है। समाजवादी आंदोलन ने हमेशा अन्याय के खिलाफ डट कर मोर्चा लिया है। समाज के आखिरी पंक्ति में खड़े व्यक्ति को प्रतिनिधित्व और अधिकार दिलाने में समाजवादी सबसे आगे हैं। देश और प्रदेश में अधिनायक शाही ताकतों को कमजोर करने के लिए समाजवादी नीतियां ही कारगर हैं। ऐसे में समाजवादी पार्टी को सशक्त कर ही प्रदेश में खुशहाली और तरक्की लायी जा सकती है।

सपा सरकार में निराश नहीं होगी जनता

सपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष ने कहा कि, भाजपा लोकतंत्र को हराने की साजिश में लगी है। जनता ने तय कर लिया है कि इस बार वह भाजपा को हरा कर ही दम लेगी। भाजपा की सरकार ने जनता को धोखा दिया है। भाजपा चालाकी की रणनीति से राजनीति के विरुद्ध साजिश कर रही है। 2022 में समाजवादी सरकार बनने पर राज्य का विकास और जनाकांक्षाओं को पूरा किया जाएगा। सपा सरकार में जनता को निराश नहीं होना पड़ेगा। 2022 का चुनाव जनता बनाम भाजपा के बीच होगा। इस चुनाव में भाजपा की हार और समाजवादी पार्टी की भारी जीत सुनिश्चित है।

Related posts

केजरीवाल ने की अधिकारियों के साथ बैठक, इलाज के लिए जाएंगे बेंगलूरू

Ankit Tripathi

पुराना नोट रखने पर अब खाएंगे जेल की हवा

shipra saxena

राम मंदिर बनाने के मुहूर्त को लेकर शुभ और अशुभ को लेकर क्यों मचा बवाल?

Rozy Ali