September 27, 2021 3:59 am
featured यूपी

अखिलेश यादव का आरोप, कहा- भाजपा ने समय संसाधन का दुरुपयोग किया

यूपी सरकार पर अखिलेश यादव का तीखा हमला, कहा तीन सालों में एक यूनिट बिजली नहीं पैदा कर पाएं

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव गुरुवार को समाजवादी आंदोलन के वरिष्ठ नेता रहे जनेश्वर मिश्र की जयंती के अवसर पर भाजपा सरकार की जनविरोधी नीतियों के विरोध में राजधानी में साइकिल यात्रा पर निकलेंगे। दो हजार से ज्यादा युवा कल राजधानी की सड़कों पर समाजवादी पार्टी के झंडों के साथ अखिलेश यादव के साथ साइकिल चलायेंगे।

सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने बुधवार को पार्टी कार्यकर्ताओं से पांच अगस्त की साइकिल यात्रा को सफल बनाने का आह्वान करते हुए कहा कि, भाजपा सरकार के पांच वर्ष पूरे होने को हैं, लेकिन इस पूरी अवधि में विकास तो कहीं दिखा नहीं, हर तरफ तबाही ही दिखाई दी है। उन्होंने कहा कि, भाजपा सरकार ने समय और संसाधन का दुरुपयोग करके लोकतंत्र की धज्जियां उड़ाई है।

भाजपा ने बुनियादी मुद्दों से मुंह चुराया: अखिलेश

सपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष ने कहा कि, भाजपा ने राजनीति की गरिमा को बहुत क्षति पहुंचाई है। झूठ और पाखंड के सहारे उसने वैचारिक प्रदूषण फैलाया है। बुनियादी मुद्दों से मुंह चुराकर जनता को बरगलाने का काम हो रहा है। विकास के नाम पर भाजपा सरकार ने एक ईंट नहीं रखी। समाजवादी पार्टी के कामों को ही अपना काम बताकर अपने दिन बिताए हैं। ऐसी कोई सरकार नहीं दिखी है, जिसके समय उत्तर प्रदेश प्रगति की ओर बढ़ने के बजाय उल्टी दिशा में पिछड़ता गया हो।

अन्‍याय के खिलाफ संघर्ष है साइकिल यात्रा का लक्ष्‍य   

अखिलेश यादव ने कहा कि, समाजवादी पार्टी ने साइकिल यात्रा के माध्यम से अन्याय के खिलाफ संघर्ष का निर्णय किया है। साइकिल यात्रा का उद्देश्य मोहम्मद आज़म खां को फर्जी मुकदमों में फंसाकर जेल में रखने, चरम पर अपराध और भ्रष्टाचार, बेलगाम मंहगाई, किसानों पर लगाये गए तीन काले कृषि कानूनों की मार, बेरोजगारी से बेहाल नौजवान, महिला उत्पीड़न, आरक्षण पर संघी प्रहार, जिला पंचायत में धांधली के कारण लोकतंत्र पर खतरा और चैपट स्वास्थ्य व्यवस्था के कारण कोरोना से हुई मौतों के खिलाफ जनरोष दर्ज करना है।

Related posts

पढ़ाना छोड़ सुबह शाम खेतों में खुले में शौच करने वालों पर नजर रखेंगे टीचर, करेंगे फोटोग्राफी

Rani Naqvi

एक बार फिर से पाकिस्तान ने नौशेरा में तोड़ा सीजफायर

shipra saxena

आखिर कब जागेगा रेलवे प्रशासन, होते होते बचा बड़ा ट्रेन हादसा

Rahul srivastava