बुनकरों से मिले अखिलेश यादव
पार्टी कार्यालय में बुनकरों से मिले अखिलेश यादव

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने शनिवार को पार्टी कार्यालय में प्रदेश के बुनकरों से मुलाकात की. इस दौरान उन्होंने कहा कि देश-प्रदेश की अर्थव्यवस्था में बुनकरों की महत्वपूर्ण सहभागिता और महत्व है। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी हमेशा बुनकरों के साथ रही है. हालांकि, भाजपा ने बुनकरों के साथ अन्याय किया है। उन्होंने कहा, ‘उसे गरीबों, बुनकरों की फिक्र नहीं, वह बड़े पूंजीपतियों की पक्षधर है। समाजवादी सरकार ने बुनकरों को फ्लैट रेट पर बिजली दी थी, भाजपा ने बिजली महंगी कर दी है। मंहगाई ने बुनकरों की आजीविका पर आघात किया है। उनका व्यापार चौपट हो गया है।’

बता दें कि अखिलेश यादव ने आज बुनकर अधिकार संगठन की ओर से आयोजित बुनकर समाज की बैठक को सम्बोधित किया है। अपने संबोधन में उन्होंने कहा है कि, सरकार बनने पर बुनकर आयोग के गठन के साथ बुनकरों की मांगों पर उदारता के साथ विचार किया जाएगा। उन्होंने कहा कि समाजवादी सरकार ने भदोही में कारपेट उद्योग के विकास में मदद के साथ लखनऊ में अवध शिल्प ग्राम और नोएडा में मुबारकपुर में बुनकरों को सुविधाएं दी थी।

भाजपा की नीति/नियत में खोट है: अखिलेश यादव

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा है कि भाजपा सरकार ने की नीति और नियत दोनों में खोट है। जनकल्याण की योजनाओं पर भाजपा सरकार का ध्यान नहीं। वह समाजवादी सरकार की योजनाओं को ही अपना बता रही है। उन्होंने कहा, ‘भाजपा लोकतंत्र की हत्या करने पर तुली हुई है। समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं पर फर्जी केस लगाए जा रहे हैं। उसकी साजिशों से सावधान रहना है।’

‘सपा के साथ है बुनकर समाज’

वहीं, बुनकर समाज की ओर से विधायक रफीक अंसारी और बुनकर सभा के प्रदेश अध्यक्ष हाजी इफ्तेखार अहमद अंसारी ने कहा कि बुनकर समाज हमेशा समाजवादी पार्टी के साथ रहा है। भाजपा राज में बुनकरों की दुर्दशा हुई है। बुनकरों ने संकल्प लिया है कि वे 2022 में सपा की सरकार बनाएंगे। उन्होंने कहा, ‘भाजपा सरकार ने बुनकरों का उत्पीड़न करने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। समाजवादी सरकार से हमारी अपेक्षा है कि वह हमारी मांगों को अपने चुनाव घोषणा-पत्र में स्थान देगी।’

क्या है बुनकरों की मांगें

बुनकरों की मांगों पर प्रकाश डालते हुए रफीक अंसारी ने कहा कि, वर्ष 2006 के शासनादेश को यथावत लागू रखा जाए। विद्युत कनेक्शन पर मीटर समाप्त हो। 2 किलोवाट कनेक्शन वाले बुनकर को भी 3 फेज विद्युत दी जाए, बुनकरों का बीमा कराया जाए। बुनकरों को 50 हजार रूपये तक का बुनकर क्रेडिट कार्ड जारी हो तथा 20 लाख तक का लोन बगैर बंधक गारन्टी के दिया जाए।

 

लखनऊ: यूपी में कोरोना के साथ ब्लैक फंगस का भी खात्मा, पढ़ें पूरी खबर

Previous article

कहीं आपका बच्चा भी तो नहीं बिता रहा स्मार्टफोन पर ज्यादा समय, हो जाइए सावधान

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured