featured यूपी

योगी सरकार ने बनाया बेहतर प्रदेश, बच्‍चों के लिए मिशन प्रेरणा की ई पाठशाला बनी वरदान

846960 yogi meeting योगी सरकार ने बनाया बेहतर प्रदेश, बच्‍चों के लिए मिशन प्रेरणा की ई पाठशाला बनी वरदान
लखनऊ 18 अक्‍टूबर , कोरोना काल के दौरान प्रदेश के प्राइमरी स्‍कूलों में शुरू की गई ई पाठशाला बच्‍चों के लिए वरदान साबित हो रही है।
क्‍लास रूम के साथ यू-ट्यूब और दूरदर्शन पर भी कर रहे पढ़ाई :
क्‍लास रूम के साथ प्राइमरी स्‍कूल के छात्र यू ट्यूब, वाट्सअप, दूरदर्शन पर दिखाए जा रहे शैक्षिक कार्यक्रमों के जरिए सीख रहे हैं।
मिशन प्रेरणा यू ट्यूब चैनल पर अपलोड किए गया 6 लाख से अधिक कंटेंट :
मिशन प्रेरणा के ई पाठशाला के जरिए विभाग की ओर से बनाए गए यू ट्यूब चैनल पर शिक्षकों व बच्‍चों के लिए 6.15 लाख कंटेंट अपलोड किए जा चुके हैं। खास बात यह है कि 1.03 लाख कंटेंट देखा जा चुका है। इसके साथ शिक्षक क्‍लास रूम के साथ वॉट्सएप ग्रुप भी छात्रों की दिक्‍कतों को दूर कर रहे हैं।
कोरोना काल के दौरान मिशन प्रेरणा के तहत बेसिक शिक्षा विभाग ने ई पाठशाला को शुरू किया था। जिसका दायरा अब बढ़ चुका है। इसमें मिशन प्रेरणा यू-ट्यूब चैनल शिक्षकों व बच्‍चों के लिए गाइड का काम कर रहा है।
कक्षा 1 से 8 तक के छात्रों के लिए अब 6 लाख से अधिक कंटेंट अपलोड:
इसमें विशेषज्ञों के तैयार किए गए उच्‍च गुणवत्‍ता के कंटेंट अपलोड किए जाते हैं। इससे शिक्षकों को भी बच्‍चों को पढ़ाने के लिए काफी कंटेंट व पढ़ाने के नए तरीके मिल जाते हैं। विभाग की ओर से कक्षा 1 से 8 तक के छात्रों के लिए अब 6 लाख से अधिक कंटेंट अपलोड किया जा चुका है।
छात्र व शिक्षक देख चुके हैं एक लाख से अधिक कंटेंट:
इसके अलावा दीक्षा पोर्टल के माध्‍यम से 4 हजार से अधिक विडियोज व विजुअल शिक्षण सामग्री शिक्षकों को उपलब्‍ध कराई जा चुकी है। शिक्षण सामग्री के जरिए शिक्षक बच्‍चों को रूचिकर एवं प्रभावी तरीके से पढ़ा रहे हैं।
पहल के जरिए सीखेंगे छोटे बच्‍चे:
पूर्व प्राथमिक कक्षाओं के छात्रों को सीखाने के लिए विभाग ने यूनिसेफ के सहयोग से एक्टिविटी बेस्‍ड पुस्तिका पहल को विकसित किया है। इसके जरिए छोटे बच्‍चों को आसानी से अक्षर ज्ञान आदि सिखाया जा सकता है।
1.63 लाख आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को ट्रेनिंग भी दी जाएगी:
विभाग की ओर प्रदेश के सभी आंगनबाड़ी केन्‍द्रों पर इस पुस्‍तक को उपलब्‍ध कराया जाएगा। इसके साथ 1.63 लाख आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को ट्रेनिंग भी दी जाएगी। हाल ही में सरकार ने आंगनबाड़ी केन्‍द्रों को प्री प्राइमरी स्‍कूल के रूप में डेवलप करने की बात कही थी।

Related posts

कानपुर: भीख मांगने वाली महिलाएं रहती हैं लग्जरी होटल में, हुआ बड़ा खुलासा

Aditya Mishra

किसान आंदोलन पर कनाडाई पीएम की टिप्पणी को विदेश मंत्रालय ने बताया गैर जरूरी, पहले बीजेपी के इस नेता ने भी किए थे सवाल खड़े

Trinath Mishra

बारिश ने धो दी जीत, स्कॉटलैंड नहीं कर पाया विश्व कप के लिए क्वालिफाई

lucknow bureua