featured यूपी

केंद्रीय राज्य मंत्री साध्वी निरंजन ने सुनीं फरियादें, अधिकारियों को दिए निर्देश

केंद्रीय राज्य मंत्री साध्वी निरंजन ने सुनीं फरियादें, अधिकारियों को दिए निर्देश

फतेहपुर: केंद्रीय राज्य मंत्री और जिले की सांसद साध्वी निरंजन ज्योति ने जनता दर्शन किया और लोगों की समस्याएं सुनीं। इस दौरान सबसे ज्यादा शिकायतें जमीन से संबंधित रहीं तो वहीं कुछ ने प्रारंभिक आहार्यता परीक्षा पंजीकरण आगे बढ़वाने की मांग की। इस पर राज्य मंत्री ने सभी को उचित कार्रवाई का आश्वासन दिलाया।

जिले के डाक बंगले में दोपहर दो बजे के बाद केंद्रीय राज्य मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति पहुंचीं थीं। यहां पर जिले भर से आए पीड़ित पहले से ही मौजूद थे। मंत्री के आते ही कर्मचारियों ने सभी से शिकायती पत्र लेकर एक-एक कर लोगों को बुलाया। इसके बाद शिकायतकर्ता ने अपनी समस्याओं को सांसद के सामने रखा और जल्द से जल्द निस्तारण करने की मांग की।

कई क्षेत्रों के लोग शिकायत लेकर पहुंचे  

केंद्रीय राज्य मंत्री से अपने मन की बात कहने के लिए मलवां, बिंदकी, सुल्तानपुर घोष, खागा सहित कई स्थानों से लोग पहुंचे थे। सभी से मिलने के साथ ही सांसद ने संबंधित अधिकारी को फोन लगाकर मामले की जानकारी ली। साथ ही नियमानुसार उचित कार्रवाई करते हुए जल्द से जल्द समस्या का निस्तारण करने के निर्देश दिए।

केंद्रीय राज्य मंत्री साध्वी निरंजन ने सुनीं फरियादें, अधिकारियों को दिए निर्देश

शहर कोतवाली की रहने वाली अनारकली ने क्रबिस्तान में कब्जे को लेकर शिकायती पत्र दिया। उन्होंने आरोप लगाया कि, उनके कब्रिस्तान को कब्जाया जा रहा है। मामले की कहीं कोई सुनवाई नहीं हो रही है। इसपर केंद्रीय राज्य मंत्री ने राजस्व अधिकारियों को फोन कर मामले की पड़ताल करने को कहा। साथ ही जो सही हो, उसके पक्ष की पैरवी भी करने को कहा।

पीईटी रजिस्‍ट्रेशन की तारीख फिर से जारी करने की मांग

इसी तरह प्रीतेश श्रीवास्तव ने अपने कई साथियों के साथ सांसद से मिलकर पीईटी पंजीकरण की तिथि पुन: जारी करवाने का अनुरोध किया। उन्होंने बताया कि, लॉकडाउन की वजह से पंजीकरण की तिथि निकल गई और वे आवेदन करने से वंचित रह गए। कई लोग तो कोरोना का शिकार हो गए, जिससे वह पंजीकरण कराने में असमर्थ रहे। इस पर केंद्रीय राज्य मंत्री ने उन्हें भी आश्वासन दिया है।

Related posts

राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के सम्मान में उत्तराखण्ड इंडस्ट्रीज एसोसिएशन द्वारा अभिनन्दन समारोह का हुआ आयोजन

Rani Naqvi

निजी क्षेत्र के दूसरे बड़े बैंक ICICI को पिछले दो दशक में पहली बार बड़ा घाटा

Rani Naqvi

मुख्य सचिव को लेकर दिल्ली हाई कोर्ट का आदेश, मीटिंग में नहीं आएंगे अंशु प्रकाश

Rani Naqvi