featured यूपी

मोदी कैबिनेट में अजय मिश्र टेनी, संसद रत्‍न अवार्डी का जानिए सियासी सफर

मोदी कैबिनेट में अजय मिश्र टेनी, संसद रत्‍न अवार्डी का जानिए सियासी सफर

लखनऊ: उत्‍तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 को देखते हुए यूपी के सात चेहरों को मोदी कैबिनेट में शामिल किया गया है। लखीमपुर से भाजपा सांसद अजय मिश्र टेनी ने मोदी कैबिनेट विस्‍तार में राज्‍य मंत्री के रूप में बुधवार को शपथ ली है।

लखीमपुर के सांसद अजय मिश्र टेनी को केंद्र में मंत्री बनाकर ब्राह्मण मतदाताओं को रिझाने का काम किया है। अजय मिश्र की ब्राह्मण मतदाताओं में अच्छी पकड़ मानी जाती है। इसका फायदा पार्टी को 2022 में यूपी में होने वाले विधानसभा चुनाव में मिलेगा। जितिन प्रसाद को भाजपा में शामिल करने के बाद लखीमपुर जिले के भाजपा कार्यकर्ताओं में नाराजगी उठी थी। अजय  मिश्र को मंत्री बनाकर स्‍थानीय भाजपा कार्यकर्ताओं की नाराजगी दूर करने का काम भी पार्टी ने किया है।

राजनीतिक सफर की शुरुआत

सांसद अजय मिश्र ‘टेनी’ लखीमपुर खीरी जनपद के निघासन के पास बनबीरपुर गांव के रहने वाले हैं। उन्‍होंने बीएससी, एलएलबी की शिक्षा क्राइस्‍ट चर्च कॉलेज और डीएवी कॉलेज कानपुर (कानपुर विश्‍वविद्यालय) से ग्रहण की है। वह जिला पंचायत के सदस्‍य और भाजपा के जिला महामंत्री भी रहे हैं। 2012 के विधानसभा चुनाव में पहली बार अजय मिश्र विधायक बने। इसके बाद 2014 के चुनाव में भाजपा ने इन्‍हें खीरी से लोकसभा का टिकट दिया और जीत दर्ज की। 2019 में लखीमपुर खीरी से दूसरी बार सांसद चुने गए।

संसद रत्‍न अवार्ड पाने वाले यूपी के इकलौते सांसद

खीरी सांसद अजय मिश्र ‘टेनी’ को संसद रत्न अवार्ड भी मिल चुका है। यह सम्‍मान पाने वाले उत्‍तर प्रदेश के वह इकलौते सांसद हैं। वह ग्रामीण विकास पर स्थायी समिति के सदस्य और कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय के तहत परामर्श समिति के सदस्य भी हैं। अजय मिश्र टेनी की खेलों में काफी रूचि है। क्रिकेट और कुश्ती में उनकी विशेष रुचि है। वह पढ़ाई के दिनों में क्रिकेट खूब खेला करते थे। वह अपने संसदीय क्षेत्र में खेल प्रतियोगिताओं का आयोजन भी करवाते हैं।

Related posts

गोरखपुर: छात्रा की संदिग्ध मौत, पुलिस ने मामला नहीं किया दर्ज, नगर विधायक ने उठाया बड़ा कदम, पढ़ें पूरी खबर

Shailendra Singh

राज्यसभा छोड़ने के लिए सिद्धू को सलाम: केजरीवाल

bharatkhabar

गुजरात में बारिश का कहर जारी,बारिश और बाढ को देखते हुए पीएम मोदी का गुजरात दौरा रद्ध

rituraj