November 30, 2022 6:31 pm
featured देश यूपी

निवेशकों के लिए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने शुरू की नई योजना, जानें क्या होगा ख़ास

21 10 2020 yogiadityanath 20922525 निवेशकों के लिए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने शुरू की नई योजना, जानें क्या होगा ख़ास
लखनऊ, 11 अक्टूबर 2021 :  ग्रेटर नोएडा औद्योगिक विकास प्राधिकरण के क्षेत्र में बीते साढ़े चार वर्षों में रिकार्ड तोड़ निवेश आया है। प्रदेश सरकार की इंवेस्टर फ्रेंडली नीतियों से प्रभावित होकर देश और विदेश के 391 बड़े निवेशकों ने ग्रेटर नोएडा में अपनी फैक्ट्री स्थापित करने के लिए जमीन ली है। ये निवेशक 26,530 करोड़ रुपए का निवेश कर ग्रेटर नोएडा में अपनी फैक्ट्री लगा रहे हैं।
-450 वर्ग मीटर से 20 एकड़ के औद्योगिक भूखंड पा सकेंगे निवेशक  
ग्रेटर नोएडा में फैक्ट्री लगाने के इच्छुक छोटे बड़े निवेशकों के इस रुझान का संज्ञान लेते हुए अब ग्रेटर नोएडा औद्योगिक विकास प्राधिकरण ने निवेशकों को औद्योगिक भूखंड उपलब्ध कराने की ओपन एंडेड योजना शुरू की है। इस योजना के तहत 450 वर्ग मीटर से लेकर 20 एकड़ तक के भूखंड निवेशकों को उपलब्ध कराए जाएंगे।
3000 लोगों को मिल सकेगा रोजगार 
आगामी 31 अक्टूबर तक आने वाले आवेदनों पर नवंबर के पहले सप्ताह में साक्षात्कार या ड्रा के जरिए आवंटन किया जाएगा। इन आवंटनों से प्राधिकरण को करीब 800 करोड़ रुपए का निवेश और 3000 लोगों को रोजगार मिलने की उम्मीद है।
ग्रेटर नोएडा की तरफ उद्यमियों का रुझान
कुल मिलकर अब औद्योगिक निवेश के लिए ग्रेटर नोएडा की तरफ उद्यमियों का रुझान तेजी से बढ़ा है। इस वजह से ही ईज आफ डूइंग बिजनेस के मामले में नोएडा देश के कुछ चुनिंदा शहरों में एक बन गया है। देश और  विदेशों की कई कंपनियां ग्रेटर नोएडा में जमीन पाने के लिए मांग कर रही थी।
आठ नए औद्योगिक सेक्टर बसाने का फैसला
इसके चलते ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने उनकी मांगों को पूरा करने के लिए आठ नए औद्योगिक सेक्टर बसाने का फैसला किया गया है। इसके लिए करीब 900 हेक्टेयर जमीन खरीदने की कार्रवाई शुरू की गई है। अब इसी क्रम में अब 23 औद्योगिक भूखंडों की योजना लांच की गई है।
इस योजना से जुड़ी जानकारी ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की वेबसाइट पर भी उपलब्ध
ग्रेटर नोएडा के सीईओ नरेंद्र भूषण के अनुसार, प्राधिकरण के सेक्टर ईकोटेक- 10, ईकोटेक- वन, एक्सटेंशन वन, ईकोटेक -8, ईकोटेक -6, ईकोटेक -11 तथा सेक्टर -16 में औद्योगिक भूखंड आवंटित किए जाएंगे। इन भूखंडों पर ग्रीन कैटेगरी नॉन पोल्यूतिंग कैटेगरी के सभी तरह के उद्योग लगाए जा सकते हैं। इस योजना से जुड़ी जानकारी ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की वेबसाइट पर भी उपलब्ध करा दी गई है।
योगी आदित्यनाथ द्वारा सूबे में निवेश को बढ़ावा देने के लिए तैयार कराई गई
प्राधिकरण के अधिकारियों के अनुसार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा सूबे में निवेश को बढ़ावा देने के लिए तैयार कराई गई औद्योगिक नीतियां देश तथा विदेश के निवेशकों को रास आ रही हैं।
देश और विदेश के 391 बड़े निवशक 26,530 करोड़ रुपए का निवेश
सूबे की आईटी तथा  मैन्युफैक्चरिंग पालिसी, फ़ूड प्रोसेसिंग नीति और सौर ऊर्जा सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देने के लिए दी गई रियायतों के चलते तमाम बड़े निवेश राज्य में अपनी यूनिट लगाने को महत्व दे रहे हैं। इसके तहत ही बीते साढ़े चार वर्षों में देश एवं विदेश के 391 बड़े निवशक 26,530 करोड़ रुपए का निवेश कर ग्रेटर नोएडा में अपनी फैक्ट्री लगा रहे हैं।
 ग्रेटर नोएडा में 391 बड़े निवेशक लगा रहे फैक्ट्री, 71,500 लोगों को मिलेगा रोजगार
चीन की विख्यात कंपनी ओप्पो और विवो भी ग्रेटर नोएडा में निवेश कर रही हैं। इसके अलावा हिरानादानी ग्रुप, ड्रीम्सटच इलेक्ट्रानिक्स, इनोक्स एयर, लेमी प्लास्टिक मैन्युफैक्चरिंग जैसी कंपनियों ने अपना उद्यम स्थापित करने के लिए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण से जमीन खरीदी है। बीते एक साल में  ग्रेटर नोएडा में फैक्ट्री लगाने के इच्छुक 46 निवेशकों को 1000 वर्ग मीटर से 20 एकड़ तक के भूखंड प्राधिकरण ने उपलब्ध कराए गए।
 साढ़े चार वर्षों में ग्रेटर नोएडा में हुआ 26,530 करोड़ रुपए का निवेश
ये 48 निवेशक 2000 करोड़ रुपये का निवेश कर यहां पानी फैक्ट्री लगाएंगे जिसमें करीब  8,200 लोगों को रोजगार मिलेगा। कई बड़ी कंपनियां भी ग्रेटर नोएडा में निवेश की इच्छुक हैं। ऐसे तमाम निवेशकों के लिए ही नई योजना लायी गई है।
औद्योगिक निवेश कराने वाला देश
अधिकारियों का कहना है कि यह योजना ग्रेटर नोएडा क्षेत्र में निवेश के इच्छुक निवेशकों के लिए निवेशकों का उत्साह बढ़ाएगी और ग्रेटर नोएडा औद्योगिक विकास प्राधिकरण चंद वर्षों में सबसे अधिक औद्योगिक निवेश कराने वाला देश का पहला प्राधिकरण बन जाएगा।

Related posts

दिल्ली-यूपी बॉर्डर पर किसानों और सुरक्षाबलों के बीच हंगामे के बाद देर रात किसान क्रांति यात्रा खत्म

rituraj

बीमार पत्नी को ले जाने के लिए नहीं मिला एंबुलेंस, ठेले पर लादकर पहुंचा अस्पताल

bharatkhabar

Diwali 2022: दिवाली का शुभ मुहूर्त, जानें गणेश-लक्ष्मी पूजन का मुहूर्त, पूजा विधि और मंत्र

Nitin Gupta