featured यूपी

फतेहपुर में सपा का जीत का दावा, भाजपा ने किया जबरदस्‍त पलटवार

फतेहपुर में सपा का जीत का दावा, भाजपा ने किया जबरदस्‍त पलटवार

फतेहपुर: फतेहपुर जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए मतदान और परिणाम से एक दिन पहले शुक्रवार की शाम को सपा और बीजेपी ने जीत का दावा करते हुए एक-दूसरे पर शब्द बाण छोड़े। समाजवादी पार्टी समर्थित प्रत्याशी संगीता राज पासवान और जिला अध्यक्ष विपिन यादव ने 27 सदस्यों के साथ अपनी जीत का दावा किया है। वहीं, बीजेपी समर्थित प्रत्याशी अभय प्रताप सिंह ने जोरदार जीत करने का दम भरा है।

समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष विपिन यादव ने बताया कि, इस बार जिला पंचायत सदस्यों ने बिना धनबल के मतदान करने की बात कही है। इसी को ध्यान में रखकर पार्टी ने अपना समर्थित प्रत्याशी मैदान में उतारा है। 27 जिला पंचायत सदस्यों ने हमारे उम्मीदवार को समर्थन देने की घोषणा की है। सदस्यों ने स्वयं ही हमारे पक्ष में मतदान करने की बात कही है। ऐसे में अध्यक्ष पद का चुनाव साफ-साफ हमारी झोली में है। वहीं, बीजेपी समर्थित जिला पंचायत अध्यक्ष पद के प्रत्याशी अभय प्रताप सिंह ने कहा कि मतदान के बाद विरोधियों को अपनी वास्तविकता का पता चल जाएगा।

जीत के लिए चाहिए इतने वोट

जिले में जिला पंचायत सदस्यों की संख्या 46 है। ऐसे में यदि सभी वोट पड़े तो किसी एक को जीतने के लिए 24 मतों की जरूरत पड़ेगी। सपा जहां 27 सदस्यों को अपने साथ बता रही है तो वहीं बीजेपी खेमा भी 42 सदस्य अपने साथ बता रहा है। ऐसे में दोनों पार्टियों की सदस्य संख्या मिला लेने से यह आंकड़ा 69 पहुंच रहा है, जबकि वास्तविक संख्या 46 है। अब देखने वाली बात होगी कि दोनों में कौन अपनी जीत तय करता है।

सपा सरकार में बीजेपी ने लहराया था परचम

भारतीय जनता पार्टी इसी पड़ के लिए पिछली बार समाजवादी पार्टी सरकार होने के बावजूद भी अपनी जीत का डंका बजा चुकी है। उस समय वर्तमान बीजेपी पंचायत अध्यक्ष प्रत्याशी अभय सिंह की पत्नी डॉक्टर निवेदिता सिंह जीती थीं। अभय प्रताप सिंह का कहना है कि जब हम लोग सपा सरकार में चुनाव जीत सकते हैं तो इस बार अपनी ही सरकार है और जिला पंचायत सदस्यों का भरपूर समर्थन भी मिल रहा है। रही बात विपक्षियों की तो जब तक जिला पंचायत अध्यक्ष पद का परिणाम नहीं आता है तब तक विरोधी अपनी जीत मना सकते हैं।

सुरक्षा रहेगी सख्त

जिला पंचायत अध्यक्ष पद के मतदान के लिए सुरक्षा व्यवस्था बेहद सख्त रखी गयी है। इस दौरान तीन थानों गाजीपुर, मलवां और जाफरगंज इंस्पेक्टर के साथ 10 अन्य इंस्पेक्टर, महिला कॉन्स्टेबल, पुरुष कांस्टेबल सहित 100 से अधिक पुलिसकर्मी तैनात रहेंगे। इसके साथ ही क्षेत्राधिकारी जाफरगंज और क्षेत्राधिकारी नगर भी मुस्तैद रहेंगे। एक कंपनी पीएसी के साथ दंगा नियंत्रण वाहन और ड्रोन कैमरा भी तैनात रहेंगे।

Related posts

म्यामां की नेता आंग सान सू की ने कहा कि म्यामां में पत्रकारों को कानून तोड़ने की सजा दी गई

rituraj

रामनगरी अयोध्या में जगमगाएगा 1100 गाय के गोबर से बने दीये

Neetu Rajbhar

अभिषेक बच्चन ने कुछ इस अंदाज में की ऐश्वर्या की तारीफ, कहे ये स्पेशल शब्द

mohini kushwaha