रोजगार मिशन: 508 क्षेत्रीय अधिकारियों को मिले नियुक्ति पत्र, सीएम योगी ने कही बड़ी बात

लखनऊ: उत्‍तर प्रदेश में योगी सरकार का मिशन रोजगार जारी है। इसी के तहत सोमवार को उन्‍होंने युवा कल्याण एवं प्रान्तीय रक्षक दल विभाग के 508 क्षेत्रीय युवा कल्याण एवं प्रादेशिक विकास दल अधिकारियों और 26 व्यायाम प्रशिक्षकों को नियुक्ति-पत्र बांटे।

ग्रामीण युवाओं को मिलेगा बढ़ने का मौका: सीएम  

इस दौरान मुख्‍यमंत्री योगी ने कहा कि, हर व्यक्ति की अपनी क्षमता होती है। प्रशिक्षित प्रादेशिक विकास दल से जुड़े अधिकारियों का मार्गदर्शन प्राप्त होने से ग्रामीण युवाओं को आगे बढ़ने का अवसर प्राप्त होगा। उन्‍होंने कहा कि, खेलो इंडिया के तहत ग्रामीण युवाओं को खेल के प्रति जागरूक करने के लिए कार्यक्रम तो चलते थे, लेकिन खेल सामग्री की कमी थी। प्रधानमंत्री जी की मंशा के अनुरूप प्रदेश में अब तक 55,000 से अधिक मंगल दलों को खेल सामग्री वितरित की गई है।

सीएम योगी ने कहा कि, पिछले चार वर्षों से PRD जवानों का न केवल यातायात व्यवस्था के सुचारु संचालन में बल्कि पर्व व विभिन्न आयोजनों पर शांति व्यवस्था बनाने और नागरिकों को सुविधा देने में बेहतरीन उपयोग कर रहे हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में खेल स्टेडियम निर्माण की प्रक्रिया को युद्धस्तर पर आगे बढ़ाया गया। परिणामस्वरूप, आज युवक मंगल दल एवं महिला मंगल दलों में भी खेलकूद की गतिविधियों को आगे बढ़ाने के लिए एक नई प्रतिस्पर्धा देखने को मिल रही है।

तत्‍परता से कार्य करेंगे पीआरडी जवान: मुख्‍यमंत्री   

सूबे के मुखिया ने कहा कि, प्रशासन की मदद के लिए PRD के जवान सदैव तत्पर होकर कार्य करने के लिए प्रतिबद्ध रहते हैं। हमारी सरकार ने उनके मानदेय में बढ़ोतरी करते हुए उन्हें विशेष रूप से प्रोत्साहित करने का प्रयास किया है। वर्षों से लंबित ये नियुक्तियां प्रदेश के युवाओं को आगे बढ़ने से वंचित कर रही थीं। अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के माध्यम से आज हमारे ये नवचयनित 534 युवा अपने एक नए जीवन में प्रवेश कर रहे हैं।

उन्‍होंने कहा कि, ग्राम पंचायतों को अपने क्षेत्रों में खेल के प्रति प्राथमिकता तय करने के लिए कहा गया है। नवनिर्वाचित पंचायत से जुड़े सभी जनप्रतिनिधियों के कार्यों से अनेक खेल प्रतिभाएं गांवों से निकलकर देश-दुनिया में अपनी प्रतिभा से धूम मचाने में सफल हो सकती हैं। युवाओं के बेहतर भविष्य के लिए यूपी सरकार प्रतिबद्ध है। मुझे विश्वास है कि प्रदेश का युवा कल्याण विभाग, ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले युवाओं के लिए विभिन्न प्रकार के अवसरों को आगे बढ़ाने का कार्य करेगा।

बिहार: जहरीली शराब पीने से 4 लोगों की आंखें खराब, अबतक 16 लोगों की मौत

Previous article

UP Election 2022: मोदी के आने के बाद कैसे 2017 में काशी हुआ भगवामय

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured