Breaking News featured यूपी

42,606 स्वयं सहायता समूहों को ₹88.66 करोड़ का हस्तांतरण, सीएम योगी का बड़ा ऐलान 

42,606 स्वयं सहायता समूहों को ₹88.66 करोड़ का भुगतान, सीएम योगी का बड़ा ऐलान 

लखनऊ: उत्तर प्रदेश राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन से जुड़े 42,606 स्वयं सहायता समूहों को ₹88.66 करोड़ का ऑनलाइन हस्तान्तरण किया गया। यह धनराशि मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने शुक्रवार को ऑनलाइन वितरित की है।

मुख्‍यमंत्री योगी ने कहा कि, 42,606 सहायता समूहों को ₹88.66 करोड़ की कुल धनराशि का हस्तांतरण किया जा रहा है। आज यहां एक और बड़ा कार्यक्रम संपन्न हुआ है। अनुपूरक पुष्टाहार के उत्पादन एवं आपूर्ति के क्रम में जनपद फतेहपुर तथा उन्नाव के स्वयं सहायता समूह की महिला सदस्यों को एकीकृत बाल विकास सेवा द्वारा प्रति इकाई ₹45.60 लाख का चेक भी प्रदान किया गया है।

महिलाओं का जीवन स्‍तर सुधारेगी सरकार: मुख्‍यमंत्री

सीएम योगी ने कहा कि, मुझे पूर्ण विश्वास है कि यूपी सरकार का यह प्रयास ग्रामीण क्षेत्र में रोजगार उपलब्ध कराने में अत्यंत सहायक सिद्ध होगा। इससे न केवल महिलाएं अपने रोजगार की स्थापना कर सकेंगी, बल्कि उनके जीवन स्तर को सुधारने में भी काफी मदद मिलेगी। उन्‍होंने कहा कि, कोरोना कालखंड में आजीविका समूह से जुड़े हुए सदस्यों ने प्रदेश के सभी 75 जनपदों के सभी 826 विकास खंडों में अपनी उपस्थिति का आभाष कराया है।

यूपी सरकार के विशेष प्रयासों से आजीविका मिशन से जुड़े हुए 4.80 लाख स्वयं सहायता समूहों के माध्यम से 52 लाख परिवारों को जोड़ा गया है। बैंक क्रेडिट लिंकेज के लिए 1,26,709 स्वयं सहायता समूहों को विभिन्न बैंकिंग संस्थाओं से जोड़कर ₹1,267 करोड़ की धनराशि अनुदानित ब्याज पर भी उपलब्ध कराई गई है। आजीविका मिशन से जुड़ीं प्रदेश की 67,000 महिलाओं से 1.55 करोड़ स्कूल ड्रेस की सिलाई कराई गई, जिसमें ₹100 करोड़ का लाभ अर्जित हुआ है। ड्रेस सिलाई से प्रति महिला ₹6,000 की मासिक आय का सृजन हुआ है।

टेक होम राशन योजना

सूबे के मुखिया ने कहा कि, ‘टेक होम राशन योजना’ के अंतर्गत प्रदेश के 43 जिलों के 204 विकास खंडों में स्वयं सहायता समूह की महिला सदस्यों द्वारा पुष्टाहार उत्पादन इकाइयों की स्थापना कर पुष्टाहार तैयार कर आंगनबाड़ी केंद्रों में वितरण किए जाने का भी निर्णय लिया गया है। इसी क्रम में आज फतेहपुर के विकासखंड मालवा तथा जनपद उन्नाव के विकासखंड बीघापुर में पुष्टाहार इकाई स्थापित कर टेक होम राशन का उत्पादन आरंभ भी कर दिया गया है।

महिला सामर्थ्य योजना के तहत ₹200 करोड़ का बजट

सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि, प्रदेश में उचित दर की 1,488 दुकानें स्वयं सहायता समूहों को आवंटित की गई हैं। बुंदेलखंड क्षेत्र में दुग्ध मूल्य शृंखला के लिए ‘बलिनी दूध उत्‍पादक कंपनी’ का गठन किया गया है। अब तक 05 जनपदों के 601 ग्रामों में इस कंपनी के 24,180 शेयर होल्डर्स हैं। उन्‍होंने कहा, अभी तक ₹80 करोड़ 53 लाख का भुगतान महिला दुग्ध उत्पादकों को किया गया है। ‘बलिनी दूध उत्‍पादक कंपनी’ द्वारा ₹06 करोड़ 04 लाख का लाभांश भी अर्जित किया गया है।

सीएम योगी ने कहा, यूपी सरकार ने ‘महिला सामर्थ्य योजना’ के अंतर्गत ₹200 करोड़ के बजट का प्रावधान किया है। इसके तहत बलिनी की तर्ज पर अन्य जनपदों में भी उत्पादक कंपनियों को बनाया जाना प्रस्तावित है। महिला स्वयं सेवी समूह को मजबूती देने के लिए सरकार द्वारा प्रारंभ प्रयास के सार्थक परिणाम आएंगे। इससे महिला स्वावलंबन के माध्यम से महिला सशक्तीकरण के लक्ष्य को प्राप्त करने में हम सबको मदद मिलेगी।

Related posts

19 फरवरी 2023 का राशिफल, जानें आज का पंचांग, तिथि और राहुकाल

Rahul

फरवरी से खाली सीबीआई निदेशक का पद जल्द भरेगा, जानिए कौन-कौन है रेस में

Aditya Mishra

जन्मदिन पर बोले अखिलेश- अभ्यर्थियों-नौजवानों को अपमानित कर रही सरकार

Shailendra Singh