October 20, 2021 10:33 pm
featured यूपी

मुकुल गोयल ने संभाला यूपी डीजीपी का चार्ज, अपराधियों को चेताया और पुलिसकर्मियों को दी सलाह

मुकुल गोयल ने संभाला यूपी डीजीपी का चार्ज, अपराधियों को चेताया और पुलिसकर्मियों को दी सलाह

लखनऊ: उत्‍तर प्रदेश के नए डीजीपी मुकल गोयल शुक्रवार को राजधानी पहुंचे। फिर वह एयरपोर्ट से सीधा अपने परिवार के साथ मारुतिनंदन के दर्शन करने हनुमान सेतु मंदिर गए। यहां उन्होंने अभिनंदन कर वीर हनुमान का आशीर्वाद लिया। इसके बाद वह मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ से मुलाकात करने के बाद डीजीपी मुख्यालय पहुंचे और नए डीजीपी का कार्यभार संभाला।

पत्रकारों से रूबरू हुए डीजीपी

यूपी के नए डीजीपी का चार्ज संभालने के बाद मुकुल गोयल कड़े तेवर के साथ प्रेस क्रांफ्रेस में पत्रकारों से भी रूबरू हुए। इस दौरान उन्होंने कहा कि, पांच साल बाद वापस आया हूं। आपके सहयोग की जरूरत है। जनता के सहयोग व पुलिस की कार्यशैली से यूपी की कानून व्यवस्था को और भी बेहतर बनाया जाएगा। यह तभी संभव है, जब लोग पुलिस का सहयोग करेंगे।

यूपी डीजीपी मुकुल गोयल ने कहा कि, पुलिस डिपार्टमेंट के अधिकारी किसी भी स्तर के हों, लेकिन उनका जुड़ाव सीधा जनता से होना चाहिए। उन्‍होंने कहा कि, पुलिस के प्रति जनता का विश्वास हो, इसके अलावा जनता और पुलिस के बीच दूरी कम हो। लिहाजा, छोटे-छोटे अपराधों को नजरअंदाज न करें और छोटे अपराधियों पर भी कार्रवाई की जाए। सभी अधिकारी फील्ड में जाएं और ज्यादा से ज्यादा जनता से मिलें।

पुलिस कार्य में टेक्‍नोलॉजी का प्रयोग जरूरी: मुकुल गोयल

उन्‍होंने कहा कि, अच्छे काम कर रहे पुलिसकर्मियों को भी शाबाशी मिलनी चाहिए। वर्तमान में बेहतर पुलिसिंग के लिए टेक्नोलॉजी बेहद जरूरी है। नए डीजीपी ने खासतौर पर कहा कि, आंदोलन कोई भी हो तो वह शांतिपूर्ण ढंग से चले तो ठीक है। जहां काननू-व्यवस्था की बात आएगी, वहां पुलिस अपना काम करेगी।

धर्मांतरण और बिकरू कांड पर बोले नए डीजीपी

डीजीपी मुकुल गोयल ने कहा कि, धर्मांतरण मामले पर अधिकारियों से बात करूंगा। जो निर्दोष है, उसे परेशान नहीं किया जाएगा, लेकिन दोषियों के खिलाफ जरूर कार्रवाई की जाएगी। उन्‍होंने कहा कि, हमारे लिए सोशल मीडिया एक बड़ी चुनौती है और इस पर हम खास रणनीति के तहत काम करेंगे। मुकुल गोयल ने कहा कि, कानपुर का बिकरू कांड कुछ छोटी गलतियों से हुआ था। लेकिन, सबको सुरक्षा का एहसास दिलाना ही हमारी प्राथमिकता है।

यूपी के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर थे मुकुल गोयल

दरअसल, मुकुल गोयल 1987 बैच के आइपीएस अफसर हैं। वह आइआइटी नई दिल्‍ली से बीटेक हैं। इसके अलावा आजमगढ़ के एसपी और वाराणसी, गोरखपुर, मेरठ, सहरानपुर के एसएसपी रह चुके हैं। साथ ही वह कानपुर, आगरा बरेली के डीआइजी रेंज भी रह चुके हैं। वहीं, गोयल आइटीबीपी और बीएसएफ में भी आइजी रह चुके हैं। बतातें चले कि मुकुल गोयल एडीजी रेलवे, सीबीसीआइडी और पूर्व में यूपी के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर भी रह चुके हैं।

Related posts

आयुष्मान भारत योजना की पहली लाभार्थी बनी करनाल की महिला, राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने भी किया ट्टीट

mohini kushwaha

सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कुंभ मेला कार्यों की ली समीक्षा बैठक,जानें अधिकारियों को क्या दिए निर्देश

Yashodhara Virodai

प्रदेश सरकार की 30 अप्रैल तक लॉकडाउन की समय-सीमा बढ़ाने की सिफारिश पर केंद्र सरकार की लग सकती है मुहर 

Shubham Gupta