featured यूपी राज्य

यूपी चुनावी घमासान: अखिलेश के लिए जरूरी है जाट वोट?

akhilesh यूपी चुनावी घमासान: अखिलेश के लिए जरूरी है जाट वोट?

पश्चिमी यूपी जिसके एक हिस्से में 10 फरवरी यानी आज मतदान हो रही है। जहां अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी के लिए किसानों और जाटों का वोट बेहद महत्वपूर्ण है। वही अखिलेश यादव की एक फिर  सत्ता में वापसी भी किसानों और जाटों के वोट पर निर्भर है। 

हालांकि जाटों की आबादी महज 2% से अधिक है। फिर भी यह समुदाय न केवल पश्चिमी यूपी की राजनीति पर हावी है, बल्कि अन्य समुदाय के किसानों पर भी हावी है। 

2017 में पश्चिमी यूपी की 109 सीटों पर भाजपा का कब्जा

बता दें पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कुल 136 सीटें हैं जिनमें से 58 विधानसभा सीटों पर आज मतदान हो रहा है। वही 2017 यूपी विधानसभा में पश्चिमी उत्तर प्रदेश की कुल सीटों में से 109 सीटों पर भाजपा को जीत हासिल की थी। 

सांप्रदायिक ध्रुवीकरण का भाजपा को हुआ फायदा

2013 में मुजफ्फरपुर दंगे में जाटों और मुसलमानों के बीच पैदा हुई गहरी खाई हो गई। इस सांप्रदायिक ध्रुवीकरण का फायदा भाजपा को हुआ। और यहां समाजवादी पार्टी ने 2 सीटों पर जीत हासिल करके सिमट गई।

अखिलेश की जीत की राह पश्चिमी यूपी

वहीं इस बार लखीमपुर खीरी हिंसा और किसान आंदोलन से भाजपा को भारी नुकसान करा सकते हैं। ऐसे में परिदृश्य में बदलाव के साथ अखिलेश यादव इस क्षेत्र से अधिकतम लाभ प्राप्त करने की चाहत रखते हैं जिससे भाजपा को अधिक नुकसान हो सके। 

वहीं सपा और आरएलडी का गठबंधन बार-बार कृषि संकट को याद दिला कर चुनावी माहौल अपने पक्ष में करने की कोशिश कर रहा है।

आजम खान का दांव क्या सपा को आएगा काम

समाजवादी पार्टी के लिए यह अच्छी बात है कि जेल में बंद सपा सांसद मोहम्मद आजम खान समाजवादी पार्टी में मौजूद है क्योंकि माना जाता है कि मुजफ्फरपुर दंगे के दौरान उन्होंने खुले तौर पर मुसलमानों की रक्षा की थी।

वही पश्चिमी उत्तर प्रदेश को लेकर अखिलेश यादव ने कहा है कि यह पश्चिम है जहां सूरज गुप्ता है ऐसा पश्चिम में भाजपा का सूरज डूब जाएगा उन्होंने 2017 में यहां नेतृत्व किया और फिर आंदोलन के दौरान किसानों को धोखा दिया। हमने वादे किए हैं जिन्हें हम पूरा भी करेंगे।

Related posts

TokyoOlympic2020: नीरज चोपड़ा ने भारत को दिलाया गोल्ड, प्रियंका गांधी-अखिलेश यादव ने ऐसे दी बधाई  

Shailendra Singh

यूपी पर उलटा पड़ सकता है भाजपा का दांव

piyush shukla

कारगिल से बुरा होगा हाल, जावेद अख्तर की पाकिस्तान को चेतावनी

kumari ashu