October 6, 2022 11:50 pm
Breaking News featured यूपी

UP: चुनावी रणभूमि में उतरी कांग्रेस, आज से जय भारत महासंपर्क अभियान का आगाज़

UP: चुनावी रणभूमि में उतरी कांग्रेस, आज से जय भारत महासंपर्क अभियान का आगाज़

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में जैसे जैसे चुनाव नज़दीक आ रहे हैं वैसे-वैसे राजनीतिक माहौल भी गर्म होता जा रहा है। जहां एक तरफ बसपा का प्रबुद्ध सम्मलेन जारी है वहीं दूसरी ओर जन आशीर्वाद यात्रा कार्यक्रम के तहत सत्तारूढ़ भाजपा जनता के पास पहुंच रही है। इन सब के बीच कांग्रेस पार्टी गुरुवार से जय भारत महासंपर्क अभियान की शुरुआत करने जा रही है। इस अभियान में पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से लेकर प्रदेश व जिला पदाधिकारी 75 घंटों के प्रवास पर रहेंगे।

इस दौरान महंगाई, बेरोजगारी, कानून व्यवस्था, किसानों का मुद्दा, महिला उत्पीड़न आदि मसलों पर जनता से सीधा संवाद होगा। साथ ही कांग्रेस की नीति और रीति से भी प्रवास के दौरान जनता को रूबरू कराया जाएगा। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने ऐलान किया है कि इस कार्यक्रम के दौरान कांग्रेसी जनता के दुःख-दर्द को भी समझने का काम करेंगे।

75 जनपदों में होगा कार्यक्रम

कांग्रेस प्रवक्ता अंशु अवस्थी ने कहा है कि 75 जनपदों में ये अभियान चलाया जाएगा। उन्होंने कहा, इस दौरान हम जनता को ये बताएंगे कि आखिर किस तरह से आज़ादी पर रोक लगाई जा रही है। जब कोई अधिकारों की बात करता है तो उसकी आवाज़ दबाने का काम भाजपा सरकार करती है। मुकदमों के दम पर डराने और धमकाने का काम करती है। उन्होंने कहा, ‘हम बताएंगे की भाजपा की नीतियां नौजवान विरोधी हैं, किसान विरोधी है, अपराध बढ़ रहे हैं, महिलाओं पर अत्याचार हो रहा है, दलितों पर अत्याचार हो रहा है। इन सभी विषयों को लेकर हम जनता के बीच जाएंगे और सीधा संवाद स्थापित करेंगे।’

75 घंटे प्रवास पर रहेंगे कांग्रेसी

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू के मुताबिक, पार्टी के पदाधिकारी गांव-मोहल्लों में प्रवास पर रहेंगे। उन्होंने लक्ष्य पर प्रकाश डालते हुए कहा कि इन 75 घंटों में 90 लाख लोगों से सीधे संपर्क स्थापित किया जाएगा। अभियान के दौरान आज़ादी के आंदोलन में कांग्रेस के योगदान की बातों पर चर्चा होगी। कांग्रेस का इतिहास, बलिदान और त्याग से जनता को रूबरू कराया जाएगा। साथ ही स्वतंत्रता सेनानियों, उनके परिजनों और वरिष्ठ नागरिकों का सम्मान किया जाएगा। मेरा देश-मेरा गांव के माध्यम से ग्रामीण जीवन की समस्याओं, खेती-बाड़ी, मंहगाई, छुट्टा पशुओं की समस्या, बेरोजगारी आदि मसलों पर संवाद होगा। वहीं राजीव गांधी की जयंती को सद्भावना दिवस के रूप में सभी कांग्रेसी मनायेंगे और लोगों को संविधान की शपथ भी दिलायी जाएगी।

Related posts

विराट ने पूरा किया राठौर का चैलेंज, मोदी और अनुष्का को दिया चैलेंज

mohini kushwaha

झांसी रेलवे स्टेशन का बदला गया नाम, अब वीरांगना लक्ष्मीबाई के नाम से होगी पहचान, आदेश जारी

Saurabh

ऋतिक रोशन ने मां के साथ शेयर की फोटो, फोटो को देख लोगों ने दी सलाह

Neetu Rajbhar