featured यूपी

बुंदेलखंड एक्‍सप्रेस-वे का काम देखकर मुख्‍यमंत्री योगी ने कही बड़ी बात

बुंदेलखंड एक्‍सप्रेस-वे का काम देखकर मुख्‍यमंत्री योगी ने कही बड़ी बात

जालौन: उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ मंगलवार सुबह जिले के कुठौंध ब्‍लॉक पहुंचे। यहां उन्‍होंने लाड़पुर गांव में निर्माणाधीन बुंदेलखंड एक्‍सप्रेस-वे का निरीक्षण किया।

मुख्‍यमंत्री ने एक्सप्रेस-वे का निरीक्षण करने के बाद कहा कि, पिछली सरकारों की सोच बुंदेलखंड के विकास के लिए रही ही नहीं बल्कि यहां की संपदा का दोहन किया गया।

बुंदेलखंड के विकास का सपना हो रहा साकार: मुख्‍यमंत्री   

उन्‍होंने कहा, जब मैंने यहां का दौरा किया तो बुंदेलखंड के बदहाली देखी और फिर इसे दूर करने के लिए हमारी सरकार ने अच्छी कार्ययोजना की शुरुआत कराई। आज बुंदेलखंड के विकास का सपना साकार हो रहा है और बेहतर से बेहतर तकनीकी की कोशिश की गई है।

सीएम योगी ने कहा कि, आज हम बुंदेलखंड में केंद्र सरकार के सहयोग से हर महत्वपूर्ण योजना ला रहे हैं। यहां की जनता का भी भरपूर सहयोग मिला है। अब यहां विकास के साथ रोजगार का सृजन तो होगा ही, औद्योगिक विकास को भी बढ़ाया जायेगा।

धरातल पर लाएंगे लोक कल्‍याणकारी योजनाएं

उन्‍होंने कहा, यहां लोक कल्याणकारी योजनाओं को धरातल पर लाया जाएगा। बीहड़ में जहां लोग आने से डरते थे, वहां आज हालात बदल रहे हैं और हम सब मिलकर विकास को आगे बढ़ाएंगे।

इससे पहले आज सुबह मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ हेलीकॉप्टर से जालौन के कुठौंद ब्लॉक के लाड़पुर गांव पहुंचे, जहां भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह व प्रभारी मंत्री नीलिमा कटियार ने उनका स्वागत किया। इसके बाद उन्‍होंने निर्माणाधीन बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे के कार्यों का जायजा लिया।

कोविड वैक्‍सीनेशन का आह्वाहन

उन्होंने निर्माण स्थल का स्थलीय निरीक्षण किया। इस दौरान अधिकारियों ने मुख्‍यमंत्री को प्रोजेक्टर पर एक्सप्रेस-वे के नक्शे के माध्यम से जानकारी दी है। कार्यों का ब्‍यौरा लेकर सीएम योगी ने काम में और तेजी लाने के निर्देश दिए हैं। इस दौरान मुख्यमंत्री ने सभी वर्कर्स और 60 से अधिक आयु के लोगों से हर हाल में कोरोना टीकाकरण कराने का आह्वान किया।

Related posts

केदारनाथ धाम के खुले कपाट, फूलों से सजाया गया मंदिर

shipra saxena

लखनऊ: यूपी गर्ल्स बटालियन ने कारगिल युद्ध के जवानों को किया नमन

Shailendra Singh

उत्तराखंड संस्कृत विश्वविद्यालय के कुलपति से हाईकोर्ट ने मांगा जवाब

piyush shukla