कोविड-19 को लेकर सीएम योगी की समीक्षा बैठक, निगरानी समितियों का गठन का निर्देश

लखनऊ: उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने अपने सरकारी आवास पर कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम, बचाव, उपचार और टीकाकरण की प्रगति के संबंध में समीक्षा बैठक की।

इस समीक्षा बैठक में मुख्‍यमंत्री योगी ने संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए ग्राम पंचायत और म्युनिस्पिल वॉर्ड स्तर पर निगरानी समितियों का गठन करने के निर्देश दिए हैं।

युवक मंगल दल व चौकीदार को करें शामिल: मुख्‍यमंत्री

उन्‍होंने कहा कि, ग्रामीण क्षेत्रों में सरकारी अधिकारियों के साथ-साथ युवक मंगल दल, चौकीदार इत्यादि को निगरानी समिति में शामिल किया जाए। इसी प्रकार शहरी क्षेत्रों में सिविल डिफेंस और स्वैच्छिक संगठनों को समितियों में सम्मिलित किया जाए।

सीएम योगी ने कहा कि, निगरानी समितियां अन्य राज्यों से प्रदेश पहुंचने वाले यात्रियों की मॉनिटरिंग करें। साथ ही वे ऐसे अन्य व्यक्तियों की भी निगरानी करें, जिनमें कोविड के लक्षण मौजूद हों। साथ ही उन्‍होंने RT-PCR टेस्टिंग की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए।

कोविड अस्‍पतालों में हो पर्याप्‍त बेड्स की संख्‍या: सीएम  

मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि, कोविड अस्पतालों में पर्याप्त संख्या में बेड्स की व्यवस्था की जाए। इन अस्पतालों में डॉक्टर, पैरामेडिकल स्टाफ, ऑक्सीजन, वेंटीलेटर्स और दवाइयों की आवश्यकतानुसार उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। अस्पतालों में वरिष्ठ डॉक्टर्स निरंतर राउंड लें।

सूबे के मुखिया ने कहा कि, सभी जनपदों में इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर्स को प्रभावी बनाया जाए। सभी जिलाधिकारी, वरिष्ठ पुसिल अधीक्षक/पुलिस अधीक्षक तथा मुख्य चिकित्सा अधिकारी प्रतिदिन सुबह-शाम बैठक कर समीक्षा करें और आगे की रणनीति बनाएं।

होम आइसोलेट मरीजों की मॉनी‍टरिंग के निर्देश  

मुख्‍यमंत्री ने कहा कि, होम आइसोलेशन के मरीजों की लगातार मॉनीटरिंग की जाए और आवश्यकता पड़ने पर उन्हें तुरंत अस्पताल में भर्ती कराया जाए। रैपिड रिस्पॉन्स टीमों का गठन कर होम आइसोलेशन में मरीजों के घर दिन में तीन बार विजिट करना सुनिश्चित किया जाए। कोरोना संक्रमितों का फौरन पता लगाकर उन्हें आइसोलेट करने से संक्रमण को रोकने में काफी मदद मिलेगी।

सीएम योगी ने कहा कि, कोविड-19 संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाए जाएं। उन्होंने कहा कि, कोरोना से जंग में मास्क एक महत्वपूर्ण टूल है, इसलिए लोगों को अनिवार्य रूप से मास्क पहनने के लिए कहा जाए। यह भी सुनिश्चित किया जाए कि दुकानदार मास्क पहनकर ही अपनी दुकान का संचालन करें।

मास्‍क पहनने वालों को ही सफर करने की इजाजत

उन्‍होंने यह भी सुनिश्चित करने का कहा कि ऑटो, टैक्सी और बस ड्राइवर भी अनिवार्य रूप से मास्क पहनें। ऑटो, टैक्सी और बस का प्रयोग उन्हीं यात्रियों को करने दिया जाए, जिन्होंने मास्क पहना हो। उन्होंने कोरोना संक्रमण से बचाव के संबंध में लोगों को जागरूक करने के लिए पब्लिक एड्रेस सिस्टम का प्रभावी इस्तेमाल करने के निर्देश भी दिए।

बैठक के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने टीकाकरण की प्रगति की भी समीक्षा की। उन्होंने टीकाकरण कार्य की गति को बढ़ाने के भी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि, टीकाकरण होने से काफी हद तक कोरोना संक्रमण के प्रभाव से लोगों को बचाया जा सकेगा। सभी जिलों में हर दिन के निर्धारित टीकाकरण लक्ष्य को हर हाल में पूरा किया जाए।

छत्तीसगढ: बीजापुर में नक्सलियों के साथ मुठभेड़ में 22 जवान शहीद 31 घायल और 1 लापता

Previous article

अजब-गजब: इस आदमी ने जिला पंचायत से लेकर राष्ट्रपति तक लड़े हैं 93 चुनाव

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured