Untitled 6 यूपी : एशिया के सबसे बड़े इस अस्पताल पर टूटा वायरस का कहर 
60 से ज्यादा डॉक्टर व स्टाफ  कोरोना से संक्रमित
लखनऊ। यूपी में कोरोना के कहर से लोग बेहाल हो रहे हैं। आलम यह है कि कोरोना मरीजों का इलाज कर रहे डॉक्टर भी बड़ी संख्या में इसकी चपेट में आ रहे हैं। यूपी में केजीएमयू कोरोना मरीजों का सबसे बड़ा केंद्र हैं।  यहां न सिर्फ सबसे जायदा मरीजों का इलाज किया जाता है बल्कि सबसे जयादा जांचें भी जाती हैं। बेड की संख्या के आधार पर एशिया का सबसे बड़ा अस्पताल केजीएमयू का माना जाता है।
आज आये 26 और चिकित्सक कोरोना संक्रमित 
केजीएमयू में डॉक्टरों और स्वास्थ्यकर्मियों पर कोरोना का कहर टूटा है। अस्पताल के 60 से ज्यादा डॉक्टर व् स्टाफ कोरोना की चपेट में आ गए हैं। जिसके बाद से केजीएमयू में कोरोना का संक्रमण बुरी तरह से फैल गया है , केजीएमयू में अब तक 60 से अधिक चिकित्सक व कर्मचारी कोरोनावायरस की चपेट  में  आ चुके हैं।
इससे साफ हो जाता है कि केजीएमयू मे संक्रमण  बुरी तरह से फैल चुका है। कोरोना की वजह से केजीएमयू की तमाम स्वास्थ्य सेवाएं भी बाधित हो रही है। केजीएमयू में कोरोना के संक्रमण ने धरती के भगवान कहे जाने वाले चिकित्सकों को भी संकट में डाल दिया है। केजीएमयू में आज 26 और चिकित्सक व स्टाफ कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। कल  संक्रमित मरीज के  सम्पर्क में आने के बाद डेढ़ सौ अन्य चिकित्सक व स्टाफ के पूर्ण सैंपल लिए गए थे। जिनमें से न्यूरो सर्जरी विभाग के 26 चिकित्सक व स्टाफ को संक्रमित पाए गए हैं।
कल आये थे 39 डॉक्टर कोरोना संक्रमित
केजीएमयू के चिकित्सा विभागों में करीब 39 चिकित्सक ऐसे हैं जो कल कोरोना संक्रमित पाए गए थे। यह सभी लोग  बीते कई दिनों से कोरोना प्रभावित क्षेत्रों में लगातार अपना योगदान दे रहे थे। इसके बाद अब अलग-अलग विभागों के करीब 39 चिकित्सक कोरोनावायरस की जद में आ गए। इनमें सर्जरी विभाग में 20 डॉक्टर संक्रमित,यूरोलॉजी विभाग में नौ डॉक्टर संक्रमित हुए,क्रिटिकल केयर मेडिसिन विभाग में तीन डॉक्टर संक्रमित हैं। इसके अतिरिक्त अन्य चिकित्सा स्टाफ कोरोनावायरस की चपेट में आ गया है।
अब तक 65 चिकित्सक व स्टाफ कोरोना संक्रमित
केजीएमयू कोरोना का कहर इस कदर टूटा है कि इस बार कोरोना की चपेट में अब तक 65 चिकित्सक व स्टाफ कोरोना की चपेट में आ चुके हैं। कोरोना ने इस बार अपना निशाना सीधा चिकित्सकों को ही बनाया है। कोरोना की चपेट में आने वाले इन सभी चिकित्सकों को होम आइसोलेट व अस्पतालों में भर्ती कर इलाज दिया जा रहा है  इसके अतिरिक्त इनके संपर्क में आए हुए लोगों की जांच भी तेजी से की जा रही है  जिससे कि कोरोनावायरस के संक्रमण को और अधिक फैलने से रोका जा सके।
आधा अस्पताल हुआ सील
केजीएमयू में लगातार चिकित्सकों व कर्मचारियों के कोरोना की चपेट में आने के बाद केजीएमयू का आधे से ज्यादा हिस्सा सील कर दिया गया है  इन सभी क्षेत्र में कोरोना संक्रमित मरीज पाए गए थे। इसके बाद अब उन सभी क्षेत्रों को सील कर सैनीटाइज किया जा रहा है। जिससे की कोरोना के संक्रमण को नष्ट किया जा सके। इसके अतिरिक्त उन सभी विभागों को भी सील किया गया है। जहां पर कोरोना संक्रमित पाए गए हैं और उन विभागों में लोगों की आवाजाही पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।

कुंभ मेले को लेकर मुख्यमंत्री तीरथ रावत ने महिलाओं को दी शानदार सौगात

Previous article

लखनऊ में हर दिन नए इलाको से मिल रहे संक्रमित

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.