बदायूं के उदय भानु ने लिया था देहदान का संकल्‍प, SRMS को सौंपा गया पार्थिव शरीर   

बरेली: बदायूं जिले के आवास विकास निवासी उदय भानु गुप्ता (71 वर्ष) का निधन दो दिन पहले (10 अप्रैल) को हो गया था। गायत्री परिवार से संबंध रखने वाले उदय भानु ने मेडिकल के विद्यार्थियों के अध्ययन के लिए अपनी देहदान का संकल्प लिया था।

उदय भानु के संकल्‍प का सम्मान रखते हुए उनके परिजनों ने उनका पार्थिव शरीर एसआरएमएस मेडिकल कॉलेज को सौंप दी है। मेडिकल कॉलेज को देहदान के साथ ही उदय भानु के भाई राजेश गुप्ता ने एक शपथ पत्र भी दिया, जिसमें उन्होंने अपने भाई की इच्छानुसार उनका पार्थिव शरीर मेडिकल कॉलेज के विद्यार्थियों को सुपुर्द किए जाने का जिक्र किया।

मेडिकल कॉलेज ने जताया आभार

इस शपथ पत्र पर उदय भानु की दो बेटियों, दामाद, भांजे और एक अन्य भाई ने भी हस्ताक्षर कर सहमति दी है। एसआरएमएस मेडिकल कॉलेज के मेडिकल सुपरिंटेंडेंट डॉ. आरपी सिंह ने इसके लिए उदय भानु और उनके परिजनों का आभार जताया।

उन्होंने कहा कि, विद्यार्थियों के लिए देहदान की तुलना किसी भी दान से नहीं की जा सकती। यह समाज सेवा के लिए किया जाने वाला सर्वोच्च दान और संकल्प है। मेडिकल कॉलेज प्रबंधन, स्टाफ और विद्यार्थी हमेशा उदय भानु जी के इस संकल्प के ऋणी रहेंगे। भगवान उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें।

उदय भानु ने लिया देहदान का संकल्‍प

आपको बता दें कि बदायूं निवासी उदय भानु गुप्ता ने देहदान का संकल्प लिया था। उनकी इच्छानुसार परिजनों ने उनकी पार्थिव देह एसआरएमएस मेडिकल कॉलेज को सौंपी है। मेडिकल के विद्यार्थियों के लिए यह सर्वोच्च दान कहा जा रहा है।

फतेहपुर में पहले दिन 2750 मतदानकर्मियों को किया गया प्रशिक्षित

Previous article

लकी ड्रॉ के विजेताओं को किया सम्‍मानित

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured