मुन्ना बजरंगी गैंग के दो शूटर मुठभेड़ में ढेर, 50000 के थे इनामी

प्रयागराज: मुन्ना बजरंगी गैंग और मुख्तार अंसारी गैंग से जुड़े दो बदमाशों की एसटीएफ से मुठभेड़ हुई। इस दौरान फायरिंग में दोनों घायल हो गए, जिन्हें अस्पताल में डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया।

50000 के थे इनामी

इन दोनों बदमाशों की तलाश पुलिस काफी दिनों से कर रही थी, इन पर ₹50000 का इनाम भी था। बदमाश वकील पांडेय और अमजद को एसटीएफ ने मुठभेड़ में ढेर कर दिया। एसटीएफ के मुताबिक ये सभी सुपारी किलर थे। इनका नाता पूर्व ब्लॉक प्रमुख दिलीप मिश्रा से भी बताया जा रहा है।

मुन्ना बजरंगी गैंग के दो शूटर मुठभेड़ में ढेर, 50000 के थे इनामी

बड़ी घटना की फिराक में थे मुन्ना बजरंगी गैंग के शूटर

यह दोनों शूटर प्रयागराज में बड़ी घटना की फिराक में थे, जिन्हें एसटीएफ ने मुठभेड़ में ढेर कर दिया। मारे गए दोनों शूटर 2013 में डिप्टी जेलर की हत्या के जिम्मेदार रहे। वाराणसी के डिप्टी जेलर स्वर्गीय अनिल त्यागी की हत्या इन्हीं लोगों ने की थी। इसके पीछे मुख्तार अंसारी और मुन्ना बजरंगी का हाथ माना जा रहा था।

सोमेश्वर नाथ मंदिर तिराहे पर हुई घटना

एसटीएफ की चेकिंग के दौरान यह घटना हुई, जब टीम को सोमेश्वर नाथ मंदिर तिराहे पर एक संदिग्ध बाइक दिखाई दी। इस पर दो बदमाश सवार थे, पुलिस को देखकर दोनों ने फायरिंग शुरू कर दी।

जवाब में एसटीएफ टीम ने भी गोली चलाई, जिसमें दोनों बदमाश घायल होकर गिर गये। इन्हें नजदीकी अस्पताल में भर्ती करवाया गया, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। इन बदमाशों के पास से कई हथियार भी बरामद किए गए हैं, जिसमें 32 बोर और 9 एमएम की पिस्टल कारतूस मिली है।

पेट्रोल-डीजल के टैक्स में 8.5 रुपए की कटौती संभव, लोगों को मिलेगी राहतः रिपोर्ट

Previous article

पश्चिम बंगाल चुनाव: ममता बनर्जी से शुभेंदु अधिकारी की सीधी टक्कर, नंदीग्राम से लड़ेंगे चुनाव

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.