September 23, 2021 12:32 am
featured उत्तराखंड

उत्तराखंड में दो और कोरोना के मरीज हुए ठीक, कुल मिलाकर 7 लोगों ने जीती कोरोना से जंग

देहरादून 4 उत्तराखंड में दो और कोरोना के मरीज हुए ठीक, कुल मिलाकर 7 लोगों ने जीती कोरोना से जंग 

देहरादून। उत्तराखंड में कोरोना पॉजिटिव की संख्या 35 है, जिनमें से दो और मरीज ठीक हो गए हैं। अब रिकवर हुए संक्रमितों की कुल संख्या सात हो गई है। दून मेडिकल अस्पताल में भर्ती अमेरिकी नागरिक और सेलाकुई निवासी युवक की लगातार दूसरी बार रिपोर्ट नेगेटिव आई। जिसके बाद अब सेलाकुई निवासी युवक को डिस्चार्ज किया जा रहा है। जबकि अमेरिकी नागरिक के बारे में अस्पताल प्रशासन ने एलआईयू को सूचना दे दी है। जिनके द्वारा अमेरिकन एंबेसी को सूचित किया गया है।इससे पहले इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वन अकादमी के तीन प्रशिक्षु आईएफएस, एक सेना का सूबेदार और कोटद्वार का युवक ठीक होकर अस्पताल से डिस्चार्ज हो चुके हैं।

दिल्ली से बिजनौर होते हुए उत्तराखंड पहुंची महिला

हरिद्वार में लक्सर के दाबकी कलां गांव की महिला दिल्ली से बिजनौर होते हुए उत्तराखंड पहुंच गई। लक्सर कोतवाली क्षेत्र के दाबकी कलां गांव निवासी एक व्यक्ति की शादी बिहार निवासी महिला से हुई है। बताया जाता है कि कुछ दिन पहले महिला मायके गई हुई थी। इसी बीच शुक्रवार को वह दिल्ली से बिजनौर होते हुए लक्सर पहुंच गई। इसकी जानकारी जैसी ही ग्रामीणों को लगी तो उन्होंने ग्राम प्रधान सतवीर चौधरी को सूचना दी। प्रधान ने सीएचसी प्रभारी डॉ. अनिल वर्मा को बताया।

इसके बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम गांव पहुंची और महिला की जांच की। महिला का स्वास्थ्य सामान्य है। फिर भी एहतियातन उसे परिजनों के साथ होम क्वारंटीन कर दिया गया। उन्होंने बताया कि महिला पर नजर रखी जा रही है। उधर, ग्राम प्रधान सतबीर सिंह ने बताया कि क्वारंटीन के बावजूद महिला गांव के बाहर घूम रही है। पुलिस को इसकी सूचना दी गई है।

नेगेटिव आ रही जमातियों के अधिकांश करीबियों की रिपोर्ट

देहरादून जिले में पॉजिटिव पाए गए जमातियों के संपर्क में आए अधिकांश की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। हालांकि अभी करीब 146 सैंपल का परिणाम आना बाकी है। दूसरा पुलिस और खुफिया तंत्र देहरादून से गए और आए जमातियों को वेरीफाई करने में कामयाब रही है। जिले के तो जमाती क्वारंटीन हैं। जनपद से बाहर 55 के करीब जमाती देश के 03 राज्यों में क्वारंटीन है। इन सब के बीच कुछ जमातियों के छिपने की सम्भावना से अभी इनकार नहीं किया जा सकता हैं। 

जिले में करीब 335 के करीब जमातियों का सत्यापन किया गया। इनमें से 140 के करीब जमातियों को विभिन्न संस्थानों में क्वारंटीन किया गया। काफी जमाती ऐसे थे, जो जमात से लौटकर 28 दिन की अवधि पूरी कर चुके थे।  जिलाधिकारी आशीष श्रीवास्तव, डीआईजी अरुण मोहन जोशी, एसपी सिटी स्वेता चौबे, एसपी देहात प्रमेंद्र डोभाल, सीएमओ डॉ मीनाक्षी जोशी और नोडल अधिकारी कोरोना डॉ दिनेश चौहान की टीम के संयुक्त प्रयास के सार्थक नतीजे सामने आने लगे हैं। 

Related posts

Lucknow: निगरानी समितियों को सरकार ने दी ये बड़ी जिम्मेदारी, अब रुकेगा संक्रमण!

Aditya Mishra

बस कुछ दिन और… फिर कोरोना फ्री हो जायेगा उत्तर प्रदेश!, यहां देखें पूरा अपडेट

Shailendra Singh

सिद्धू ने पार्टी के लिए खड़ी की मुसीबत, बोले देश को ‘काले अंग्रेजों’ से निजात दिलाओ

bharatkhabar