corona 1 दो और प्रशासनिक अधिकारी आए कोरोना की चपेट में, माध्यमिक शिक्षक संघ के उपाध्यक्ष की कोरोना से मौत

लखनऊ: राजधानी लखनऊ में कोरोना का कहर देखने को मिल रहा है। आम जनता को अपनी चपेट में लेने के बाद कोरोना ने अब अधिकारियों को भी चपेट में लेना शुरू कर दिया है। इसी कड़ी में विशेष सचिव वित्त समीर वर्मा भी कोरोना की गिरफ्त में आ गए हैं।

विशेष सचिव वित्त की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। वहीं अपर मुख्य सचिव आराधना शुक्ला को भी कोरोना हो गया है। इसके अतिरिक्त उनके पति पूर्व आईएएस प्रदीप शुक्ला को भी कोरोना हो गया है।

केजीएमयू में चल रहा था इलाज

वहीं लखनऊ के माध्यमिक शिक्षक संघ के उपाध्यक्ष ओपी श्रीवास्तव की इलाज के दौरान कोरोना से मौत हो गई है। केजीएमयू में इलाज के दौरान उनकी मौत हुई है। वो केवीएनएलवी इंटर कॉलेज में शिक्षक थे। उनके निधन से शिक्षा जगत में शोक की लहर दौड़ गई है।

डॉक्टरों पर सितम ढा रहा कोरोना!

वहीं लखनऊ के केजीएमयू में कोरोना महामारी घातक साबित हो रही है। इसने 40 डॉक्टरों को गिरफ्त में लेने के बाद एक बार फिर से सितम ढाना शुरू कर दिया है।

केजीएमयू के न्यूरो सर्जरी विभाग के 26 डॉक्टर और कर्मचारी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इसके अतिरिक्त तीन फैकल्टी और पांच रेजिडेंट डॉक्टर कोरोना संक्रमित पाए गए हैं।

कोरोना का ‘पिकनिक स्पॉट’ बना लखनऊ

बता दें कि राजधानी लखनऊ में कोरोना का ब्लास्ट देखने को मिला है। राजधानी लखनऊ में बीते 24 घंटे में जहां 2369 केस सामने आए हैं वहीं कोरोना के कारण पिछले एक दिन में छह लोगों की मौत हो गई है।

पूरे प्रदेश में राजधानी लखनऊ सबसे ज्यादा कोरोना से पीड़ित है। यहां कोरोना की रफ्तार सबसे तेज है और कोरोना के केस चौगुनी रफ्तार से बढ़ रहे हैं।

लखनऊ में शवदाहगृहों में शवों के अंतिम संस्कार के लिए वेटिंग चल रही है। और टोकन मिलने के बाद लाइन में लगकर शवों का अंतिम संस्कार किया जा पा रहा है। वहीं पूरे यूपी में पिछले 24 घंटे में रिकार्ड 8490 केस सामने आए हैं। यूपी में एक दिन में कोरोना से 40 लोगों की मौत हो गई है।

फतेहपुर: ज्ञापन देने के चक्‍कर में व्‍या‍पारियों ने किया धारा 144 का उल्लंघन

Previous article

बीजापुर: नक्सलियों ने CRPF जवान राकेश्वर सिंह को 6 दिन बाद छोड़ा

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured