यमुना एक्सप्रेस वे के किनारे जल्द बनेगा ट्रॉमा सेंटर, कम होंगे मौत के आंकड़े

नोएडा: यमुना एक्सप्रेस वे पर हादसे आए दिन होते रहते हैं। तेज रफ्तार इसके पीछे एक बड़ा कारण है। इन सबके बीच सही समय पर स्वास्थ्य सुविधा का न मिल पाना भी मौत के आंकड़े को बढ़ा देता है। इसी से निपटने के लिए बीजेपी विधायक द्वारा सकारात्मक कदम उठाया गया है।

जल्द होगा ट्रॉमा सेंटर का निर्माण

यमुना एक्सप्रेस वे पर हादसों से होने वाली मौतों में अब भारी कमी आएगी। समय पर स्वास्थ्य सुविधा मिल जाए, इसके लिए ट्रॉमा सेंटर का निर्माण इसी क्षेत्र में करने की योजना बनाई जा रही है। इसे 100 बेड के अस्पताल के रूप में बनाया जाएगा। इसके बनने से एक्सप्रेस वे पर होने वाले हादसों में घायलों को समय रहते बेहतर इलाज मिल सकेगा।

बीजेपी विधायक ने दिया प्रस्ताव

यमुना एक्सप्रेस वे के किनारे ट्रामा सेंटर बनाने का प्रस्ताव जेवर से बीजेपी विधायक धीरेंद्र सिंह द्वारा दिया गया थे, इसे यूपी के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह द्वारा मंजूरी मिल गई है। इस बात की जानकारी उन्होंने खुद ट्वीट करके दी। यह ट्रामा सेंटर 100 बेड वाला होगा, जिसमें आसपास रहने वाले लोगों को फ्री में इलाज मिलेगा। वहीं यमुना एक्सप्रेस वे पर किसी तरह का एक्सीडेंट होने पर मरीजों को समय रहते, बेहतर इलाज मिल सकेगा। इससे मौत के आंकड़ों में भी कमी आएगी।

इस विषय में अधिक जानकारी देते हुए धीरेंद्र सिंह ने बताया कि आने वाले 2 दिन महीने के अंदर यह ट्रामा सेंटर बनकर तैयार हो जाएगा। यमुना एक्सप्रेस वे पर सड़क हादसा होना बहुत सामान्य बात हो गई है, लगातार हर वर्ष मामलों में तेजी आ रही है। जहां 2012 के दौरान लगभग 300 के करीब हादसे हुए और 33 लोगों की जान गई। वहीं 2013 में यह बढ़कर 900 पहुंच गया और मृतकों की संख्या 118 के करीब पहुंच गई। ऐसे में ट्रामा सेंटर का निर्माण काफी सकारात्मक पहल है।

वाराणसी से लौटने के बाद होगा कांवड़ यात्रा पर फैसला, कल कोर्ट में जवाब देगी योगी सरकार

Previous article

बागपत जेल में सजा काट रहा गैंगस्टर सोशल मीडिया पर एक्टिव, तस्वीरें वायरल

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured