Breaking News यूपी

समस्याओं के निराकरण के लिए मुख्यमंत्री से मिलेंगे व्यापारी

WhatsApp Image 2021 07 23 at 5.02.54 PM समस्याओं के निराकरण के लिए मुख्यमंत्री से मिलेंगे व्यापारी

लखनऊ। जीएसटी की समस्याओं, बिजली के फिक्स चार्ज, पेंशन योजना समेत कई मांगों को लेकर व्यापारियों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिलने का निर्णय लिया है। व्यापारियों की मांग है कि कोरोना के इस मुश्किल दौर में सरकार को उनका ध्यान रखना चाहिए।

अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल एवं उत्तर प्रदेश युवा उद्योग व्यापार मंडल के राष्ट्रीय अध्यक्ष संदीप बंसल के नेतृत्व में कानपुर में आयोजित हुई प्रदेश कार्यकारिणी बैठक में सर्व समिति से निर्णय लिया गया कि कोरोना की परिस्थितियों को देखते हुए फिलहाल प्राथमिकता पर व्यापारी वर्ग को टीकाकरण कराने एवं सावधानी से व्यापार करने के लिए प्रेरित किया जाए। किसी भी बाजार में अतिरिक्त भीड़ ना लगे और सभी व्यापारी मास्क उचित दूरी एवं सैनिटाइजर का प्रयोग करें।

संदीप बंसल ने कहा की कार्यसमिति की बैठक में 54 जिलों के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लेते हुए बहुत सारी समस्याओं को सामने रखा। उन प्रमुख समस्याओं के निराकरण के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री से संगठन का प्रतिनिधिमंडल अति शीघ्र भेंट करेगा।

संदीप बंसल ने मुख्यमंत्री द्वारा जिलाधिकारी एवं पुलिस कप्तान द्वारा हर जनपद में व्यापारियों और उद्यमियों की समस्याओं के त्वरित निराकरण के लिए मासिक बैठक किए जाने के निर्देश का स्वागत किया। साथ ही व्यापारियों की अन्य प्रमुख समस्याओं के निराकरण के लिए अति शीघ्र मुख्यमंत्री से भेंट करने का निर्णय लिया।

मुख्यमंत्री से मिलकर बताए जाने वाले प्रमुख विषयों में जीएसटी से किसी भी प्रकार का उत्पीड़न ना किया जाना, बिजली के फिक्स चार्ज समाप्त किए जाना, वरिष्ठ व्यापारी पेंशन योजना प्रारंभ किया जाना, व्यापारी को सम्मान देने के लिए व्यापारी दिवस घोषित किया जाना, कोविड-19 से मरने वाले व्यापारी परिवार को मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना में शामिल किया जाना, शिक्षा क्षेत्र की तरह पंजीकृत व्यापारियों का भी विधान परिषद चुनाव कराया जाना, प्रदेश के सभी प्रमुख बाजारों में महिलाओं के लिए पिंक टॉयलेट की स्थापना किया जाना प्रमुख हैं।

Related posts

रोबोट ने बदला सर्जरी का तरीका, सक्सेस रेट भी ज्यादा

Aditya Mishra

कोरोना महामारी से बदली बजट सत्र की प्रकिया, जानें क्यों इस बार नहीं छपेंगे बजट दस्तावेज

Aman Sharma

निजी स्कूलों में फिर से शुरू होगी ऑनलाइन पढ़ाई, जानिए क्या है नया आदेश

Aditya Mishra