यूपी में पर्यटन का उद्यम के रूप में होगा बढ़ावा, जानिए कैसे

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए अब नए प्रयोग किए जाएंगे। इसी क्रम में राज्य सरकार प्रदेश के अंदर 12 सर्किट स्थापित करेगी। इसका मुख्य उद्देश्य सभी पर्यटन केंद्रों को चिन्हित करना और उन्हें विकसित करना है।

उद्यम के रूप में विकसित होगा पर्यटन केंद्र

प्रदेश के कई ऐसे बड़े पर्यटन स्थल हैं, जहां भारी संख्या में लोग घूमने-टहलने के लिए आते हैं। इसमें धार्मिक मान्यताओं, ऐतिहासिक व सांस्कृतिक पृष्ठभूमि से जुड़े हुए स्थल भी हैं। पर्यटन विभाग से मिली जानकारी के अनुसार इन सभी स्थानों पर विकास के कई नए कार्य किए जाएंगे। जिससे आने वाले समय में यात्रियों की संख्या भी बढ़ेगी और पर्यटन क्षेत्र को आर्थिक फायदा भी होगा।

यूपी में आकर्षण का मुख्य केंद्र

उत्तर प्रदेश के कई ऐसे शहर हैं, जो आस्था के बड़े केंद्र के रूप में विकसित हो रहे हैं। जिसमें अयोध्या, प्रयागराज वाराणसी सबसे प्रमुख हैं। यहां रामायण-महाभारत से जुड़े हुए तथ्य और स्मृतियां मौजूद हैं। वहीं बौद्ध धर्म, शक्तिपीठ, इको टूरिज्म, स्वतंत्र संग्राम से जुड़े स्मारक और इमारतें भी हैं।

यहां के मंदिरों, घाटों और अन्य ऐतिहासिक स्थलों को विकसित करने पर विशेष जोर दिया जा रहा है। अयोध्या में भव्य राम मंदिर बनने के बाद यहां पर्यटकों की संख्या बढ़ेगी। इसके अलावा मथुरा, विंध्याचल धाम पर भी उत्तर प्रदेश सरकार का ध्यान केंद्रित है।

Protest in Lucknow: सीएम आवास का घेराव करने पहुंचे अभ्यर्थी, पुलिस ने…

Previous article

अलीगढ़: किराए का कमरा लेकर कपल ने किया सुसाइड, वजह जानकर पुलिस भी हैरान

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured