featured देश

आज है सावन का तीसरा सोमवार, जाने कितना है महत्व और पूजा का तरीका

sawan 1.jpg 2 1 आज है सावन का तीसरा सोमवार, जाने कितना है महत्व और पूजा का तरीका

आज सावन महीने का तीसरा सोमवार है। सावन के महीनों में इन सोमवार का एक अलग ही महत्व होता है।

नई दिल्ली। आज सावन महीने का तीसरा सोमवार है। सावन के महीनों में इन सोमवार का एक अलग ही महत्व होता है। आज के सोमवार के साथ सोमवती आमावस्या भी है जिसकी वजह से इसका महत्व 2 गुना हो जाता है। यूं तो इस सामवार को भगवान शिव के मदिरों में भक्तों की भीड़ लगी रहती थी।

लेकिन इस साल कोरोना संकट के चलते मंदिरों में भक्तों की भीड़ देखने को नहीं मिली। इस साल बहुत कम लोग भगवान शिव का जलाभिषेक करेंगे। हालांकि वहीं ज्यादातर लोग अपने घरों में पूरी विधि विधान के साथ भगवान शिव की आराधना करेंगे। मना जाता है कि सावन के महीने में भगवान शिव का आरधना करने से सभी मनोकामनाएं पूरी होती है।

sawan 3 आज है सावन का तीसरा सोमवार, जाने कितना है महत्व और पूजा का तरीका

तीसरा सावन सोमवार पूजा विधि

बता दें कि आज यानि 20 जुलाई को सावन का तीसरा सोमवार है। इस दिन सोमवती अमावस्या भी होती है तो इस दिन विशेष रूप से पूजा की जाती है। कहा जाता है कि भोलेनाथ ऐसे भगवान है जो जल्द प्रसन्न हो जाते हैं। इस दिन व्रत रखने वाले लोग सुबहके वक्त सवेरे उठते हैं।

उसके बाद पूजा का सारी सामग्री लेकर घर के मंदिर में एकत्र हो कर पूजा करते हैं। पूजा की सभी सामग्री को भगवान शिव और मां पार्वती को सर्पित कर देते हैं। इस दौरान भगावन शिव का जलाभिषेक करते हुए जाप करते रहना पड़ता है।

रुद्राभिषेक

उसके बाद शिवलिंग का जितना जलाभिषेक किया जाता है। उसी वकेत सभी देवों के क्षण का भी फल मिल जाता है। कहते है कि भगवान शिव का रूद्राभिषेक करने से सभी मनोकामनाएं पूरी हो जाती है। शिवलिंग का अलग-अलग पदर्थो से अभिषेक कर के इंसान अपनेमन की सभी इच्छाओं का फल पा सकता है। बता दें कि दूध से अभिषेककर पुत्र की प्राप्ति कर सकते हैं। गन्ने के रस से अभिषेक कर अपने लिए अच्छे पति और पत्नी की प्राप्ति कर सकते हैं। शहद से कर्ज मुक्ति, कुश एवं जल से रोग मुक्ति, पंचामृत से अष्टलक्ष्मी तथा तीर्थों के जल से मोक्ष की प्राप्ति होती है।

https://www.bharatkhabar.com/date-set-for-private-trains/

शिव मंत्र

सावन सोमवार पर शिवलिंग पर जल चढ़ाते समय इन शिव मंत्रों का जाप जरूर करें।

ॐ नमः शिवाय॥

नम: शिवाय॥

ॐ ह्रीं ह्रौं नम: शिवाय॥

ॐ पार्वतीपतये नम:॥

ॐ पशुपतये नम:॥

ॐ नम: शिवाय शुभं शुभं कुरू कुरू शिवाय नम: ॐ ॥

Related posts

राखी सावंत ने पहनी मोदी के प्रिंट वाली मिनी ड्रेस, सोशल मीडिया में हंगामा

bharatkhabar

उत्तराखंड चुनावः कर्णप्रयाग में 9 बजे तक 4.33 प्रतिशत मतदान

kumari ashu

ENG vs IND 5th TEST: मेजबान टीम के आगे पस्त दिखी टीम इंडिया, 58 रन पर गवांए तीन विकेट

mahesh yadav