shimla 1 पहाड़ से लेकर मंदिर तक सब कुछ एक जगह

नई दिल्ली। गर्मियां शुरु हो गई है और इस गर्मी से बचने के लिए लोग कुछ समय की छुट्टी लेकर हिल स्टेशन जानें का तो प्लैन करते ही हैं और इस गर्मी में किसी हिल स्टेशन जाने से अच्छा और होगा भी क्या क्योंकि वहां का मौसम ठंडा और अच्छा होता है। तो अगर आप भी कहीं घूमने की प्लैनिंग कर रहे हैं तो शिमला से अच्छा हिल स्टेशन कौन सा होगा।

shimla 1 पहाड़ से लेकर मंदिर तक सब कुछ एक जगह

 

इतिहास

शिमला एक खूबसूरत हिल स्टेशन तो है ही साथ ही ये हिमाचल प्रदेश की राजधानी भी है। शिमला समुद्र की सतह से 2202 मीटर की ऊंचाई पर बसा हुआ है और इस जगह को समर रिफ्यूज और हिल स्टेशनों की रानी के नाम से भी जाना जाता है। शिमला को उसकी यह पहचान सन् 1972 में मिली थी। इस जगहा का नाम शिमला, मां काली के दूसरे नां श्यामला के ऊपर रखा गया है।

shimla 3 पहाड़ से लेकर मंदिर तक सब कुछ एक जगह

यूं तो शिमला में बहुत सी पहाड़ियां हैं जो इसके आकर्षण को बढ़ाती है लेकिन इसकी मुख्य पहाड़ियो में जाखू, प्रॉस्पैक्ट, ऑव्सर्वेटरी, एलीसियम और समर का नाम शामिल है। आपको बदा दें की आजादी के बाद कुछ समय तक शिमला पंजाब की राजधानी थी, लेकिन अब शिमला हिमाचल प्रदेश की राजधानी है।

भक्ति और पर्यटन का संगम

शिमला एक पहाड़ी क्षेत्र है और दिल्ली या दूसरे शहरों के लोग ऐसे पहाड़ी इलाकों में घूमना काफी पसंद करते है। लोगों को खुले और हरियाली वाले क्षेत्र काफी पसंद होते है और शिमला में आपको ये सब मिलेगा। यंहा पर आपको जाखू मंदिर जो भगवान हनुमान का मंदिर है और यह मंदिर समुद्र से 8048 मीटर ऊंचा है। आप यहां पर क्राइस्ट चर्च भी देख सकते है। इस चर्च को जे.टी. बोइल्यू ने डिजाइन किया है और यह काफी खूबसूरत है। यह पूरा चर्च रंगीन ग्लासों से सजा हुआ है जिनमें रिज के द्रश्य दिखाई देते है।

shimla 4 पहाड़ से लेकर मंदिर तक सब कुछ एक जगह

 

शिमला में आपको बौद्ध धर्म की भी धलक मिलेगी क्योंकि यहां दोरजे ड्रैक मठ विहार है। साथ ही यहां मां काली का मंदिर भी है और पूरे साल यहां भक्तों का तांता लगा रहता है। इस मंदिर में दीवाली, नवरात्री और सारे हिन्दु त्यौहार काफी हर्षोल्लास के साथ मनाए जाते है। अगर आपको और भी कोई मंदिर घूमना हो तो आप शिमला के संकटमोचन मंदिर के भी दर्शन कर सकते है।

खूबसूरत प्राचीन जगह

शिमला में ब्रिटिश शासन की कई सारी प्राचीम इमारते है। यह इमारतें काफी मशहूर है। इनमें रोथनी कैसल और मैनोर्विल हवेली शामिल है। यहां एक और आकर्षण का केन्द्रं शामिल है, इसको टाउन हॉल के नाम से जाना जाता है और इसका निर्माण 1919 में किया गया था।

shimla 2 पहाड़ से लेकर मंदिर तक सब कुछ एक जगह

आज के समय में टाउन हॉल में शिमला नगर निगम का कार्यालय है। यंहा पर सन् 1888 में वाइसरीगल लॉन्ज बनाया गया था। इसको राष्ट्रपति निवास के नाम से भी जाना जाता है। यह एक 6 मंजिल की इमारत है और इस इमारत का काफी ध्यान रखा जाता है, साथ ही यह इमारत खूबसूरत लॉन और बगीचों से घिरी हुई है। आज के समय में इस इमारत में इंस्टीट्यूट ऑफ एडवांस्ड स्टडी स्थित है। इसके साथ ही यंहा ऐसी और भी बहुत सी इमारते है।

एडवेंचर्स भी है शिमला

अगर आपको एडवेंचर पसंद है तो भी आप इस जगह जा सकते है क्योंकि यहां आप आइस स्केटिंग का लुफ्त उठा सकते है और शिमला आइस स्केटिंग के लिए काफी मशहूर है। साथ ही अगर आपको ट्रैकिंग करनी हो तो भी शिमला से अच्छी जगह कोई नहीं है। लोग शिमला ट्रैकिंग के लिए भी आते है। यहां आप माउंटेन बाइक राइडिंग का मजा भी ले सकते है और अगर आपको राफ्टिंग करनी हो तो आप व्यास, रावी, चिनाब और झेलम जैसी नदियों पर राफ्टिंग एंजोए कर सकते है।

अब एक और सपा नेता ने फोड़ा अखिलेश यादव पर लेटर बम

Previous article

शूटिंग के लिए हैदराबाद पहुंची गोलमाल 4 की टीम

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.