featured यूपी

सपा बसपा शासन में हुए घोटालों को जनता भूली नहीं : स्वतंत्रदेव सिंह

घोटालों को जनता भूली नहीं: स्वतंत्रदेव सिंह

लखनऊ। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने कहा है कि सपा बसपा शासनकाल में गरीबों के नाम पर चलने वाली सरकारी योजनाओं में जमकर जनधन की लूट होती थी। महापुरूषों के नाम पर बनने वाले स्मारकों के निर्माण में हुए भ्रष्टाचार व घोटालों को जनता आज भी नहीं भूली है। सपा-बसपा को कांग्रेस की ‘बी‘ और ‘सी‘ टीम बताते हुए स्वतंत्रदेव ने कहा कि सपा-बसपा के शासन में उत्तर प्रदेश में जातिवाद, वंशवाद, परिवारवाद, भ्रष्टाचार और अराजकता का माहौल था।

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने विपक्षी दलों के नेताओं द्वारा जन आशीर्वाद यात्रा को लेकर की जा रही बयानबाजी पर पलटवार करते हुए कहा कि सपा-बसपा कांग्रेस पिछड़ों, दलितों और वंचितों के नाम पर राजनीति करती रही। उनके वोटों का सौदा करती रहीं लेकिन जब भागीदारी देने की बारी आई तो घर-घराने में ही सारी कुर्सी बांट दी।
उन्होंने कहा कि मोदी -योगी की अगुवाई में समाज के सभी वर्गों के न केवल विकास की यात्रा तय हो रही है बल्कि सरकार से लेकर नीति निर्धारण तक का वे अहम हिस्सा हैं। ऐसे में परिवारवाद और भ्रष्टाचार की राजनीति करने वालों को सबका साथ सबका विकास की नीति पच नहीं रही है।

प्रदेश अध्यक्ष ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केन्द्रीय मंत्रिमण्डल में उत्तर प्रदेश का प्रतिनिधित्व करने वाले केन्द्रीय मंत्रियों द्वारा जनता का आशीर्वाद लेने के लिए सोमवार से प्रदेश में शुरू की गई ‘जन आशीर्वाद यात्रा‘ का जगह-जगह पर अभूतपूर्व स्वागत व अभिनंदन कर समर्थन देने के लिए जनता का आभार जताया है। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने जन आशीर्वाद यात्रा को लेकर विपक्षी दलों के नेताओं द्वारा की जा रही बयान बाजी को उनकी हताशा व घबराहट का परिणाम बताते हुए कहा कि जिस तरह से आज जन आशीर्वाद यात्रा का जगह-जगह पर स्वागत कर जनता ने मोदी-योगी सरकार द्वारा लोक कल्याण के लिए किए जा रहे कार्यों और भाजपा सरकार की नीतियों पर अपनी मुहर लगाई है, उससे साबित होता है कि जनता का विश्वास भाजपा पर और भी दृढ़ हुआ है।

Related posts

अगर सेल्फी दिखना चाहती हैं बेस्ट… तो अपनाएं ये टिप्स

rituraj

योगी सरकार ने विधानसभा में फिर पेश किया यूपीकोका, पास होने में दिक्कते कम

lucknow bureua

टोक्यो में मिलने के वादे के साथ रियो ओलम्पिक का समापन

bharatkhabar