featured उत्तराखंड

देवस्थानम बोर्ड के विरोध में धरना कर रहे तीर्थ पुरोहितों ने 30 अक्टूबर तक धरना किया स्थगित

Capture 21 देवस्थानम बोर्ड के विरोध में धरना कर रहे तीर्थ पुरोहितों ने 30 अक्टूबर तक धरना किया स्थगित

उत्तराखंड में राज्य सरकार और चारों धामों के के बीच पिछले 22 महीनों से चला रहा गतिरोध आज दोनों पक्षों की बातचीत के टूट गया है। मुख्यमंत्री के आश्वासन के बाद चारों धामों में चल रहा धरना और प्रदर्शन 30 अक्टूबर तक स्थगित कर दिया गया है। इसके अलावा मनोहर कांत ध्यानी की अध्यक्षता में गठित हाई पावर कमेटी में चारों धामों के 8 तीर्थ पुरोहितों को बतौर सदस्य शामिल किया है । चारों धामों की ओर से अध्यक्ष कृष्णकांत कोटियाल, सुरेश सेमवाल, पुरुषोत्तम उनियाल ,विनोद शुक्ला एवं उमेशसती ने अपना पक्ष रखा।

बता दें कि मुख्यमंत्री आवास पुष्कर सिंह धामी की अध्यक्षता में चारों धामों के तीर्थ पुरोहित और अधिकारियों की एक बैठक आयोजित की गई । जिसमें मुख्यमंत्री के देवस्थानम बोर्ड पर सकारात्मक आश्वासन दिए जाने के बाद पिछले कई दिनों से चारों धामों में चल रहा धरना प्रदर्शन स्थगित कर दिया गया है ।

18 09 2020 18rdpp2 c 2 20765179 223549 देवस्थानम बोर्ड के विरोध में धरना कर रहे तीर्थ पुरोहितों ने 30 अक्टूबर तक धरना किया स्थगित

प्रेस को जारी बयान में चार धाममहापंयत के संयोजकसुरेश सेमवाल ने बताया कि मुख्यमंत्री ने हाई पावर कमेटी में 8 सदस्यों को रखे जाने की घोषणा की है। इसमें चारों धामों के दो तीर्थ पुरोहित बतौर सदस्य हाई पावर कमेटी में रहेंगे । प्रवक्ता डॉक्टर बृजेश सती ने बताया कि मुख्यमंत्री ने आश्वासन दिया है कि वे किसी के भी दबाव में न आएं तथा उनके द्वारा जो आश्वासन दिया गया है उस पर ही विश्वास करें । चार धाम महापंचायत अध्यक्ष कृष्णकांत कोटियाल के नेतृत्व में चारो धाम के तीर्थ पुरोहितों व हकहकूकधारियों ने मुख्यमंत्री से मुलाकात की

Related posts

kumari ashu

हनी ट्रैप मामला:   ‘मेरा प्यार’ और ‘पंछी’ थे गिरोह के प्रमुख कोर्डवर्ड

Rani Naqvi

Hathras Gangrape प्रकरण पर उमा भारती ने व्यक्त की संवेदना, हाथरस जाने की इच्छा

Aditya Gupta