देश featured

सऊदी अरबः रविवार को सरकार ने सुनाया ऐतिहासिक फैसला,अरब में महिलाएं कर सकेंगी ड्राइविंग

saudi arab सऊदी अरबः रविवार को सरकार ने सुनाया ऐतिहासिक फैसला,अरब में महिलाएं कर सकेंगी ड्राइविंग

सऊदी अरब में महिलाओं को समानता का अधिकार देने की तरफ अग्रसर होती नजर आयी साऊदी अरब की सरकार। आपको बता दें कि सऊदी अरब में महिलाओं को अब ड्राइव करने को मंजूरी मिल गई है।सदियों से चली आ रही कुरीति को सरकार ने अब खत्म कर दिया है। पहले वहां कि महिलाओं को ड्राइव करने की अनुमति प्राप्त नहीं थी।

 

saudi arab सऊदी अरबः रविवार को सरकार ने सुनाया ऐतिहासिक फैसला,अरब में महिलाएं कर सकेंगी ड्राइविंग

एक जगह से दूसरी जगह की यात्रा करने के लिए उन्हें अपने परिवार के पुरूषों पर निर्भर रहना पड़ता था

गौरतलब है कि ऐसे में एक जगह से दूसरी जगह की यात्रा करने के लिए उन्हें अपने परिवार के पुरूषों पर निर्भर रहना पड़ता था। रविवार को इस बंधन से छुटकारा दिलाते हुए सऊदी सरकार ने उनके लिए ऐतिहासिक फैसला किया और उन्हें ड्राइव करने की कानूनी अनुमति दी।

कांग्रेस ने बीजेपी पर बोला हमला, पीएम मोदी को बताया ‘आज का औरंगजेब’

अकेला ड्राइविंग ही अधिकार नहीं जिससे अब तक वहां की महिलाएं बंदिश में जकड़ी थीं

समानता के क्षेत्र में अकेला ड्राइविंग ही अधिकार नहीं जिससे अब तक वहां की महिलाएं बंदिश में जकड़ी थीं। मालूम हो कि अभी भी कई कुरीति हैं जो कई तरह की महिलाओं पर पाबंदी लगाती हैं।

10 तरह की पाबंदी है सऊदी की महिलाओं को

सऊदी की महिलाएं अपने परिवार के पुरूष अभिभावक की आदेश के बिना शादी और तलाक नहीं दे सकती हैं

पुरूष रिश्तेदारों से बाहर घुलमिल नहीं सकती हैं

अपने पुरूष रिश्तेदारों से बाहर घुलमिल नहीं सकती हैं ऐसा करती हुई पाईं जाती हैं तो उन्हें जेल की सजा का प्रवधान है।महिलाएं बाहर रेस्तरां में खाना नहीं खा सकती हैं क्योंकि वहां के रेस्तरां में अलग से फैमिली सेक्शन नहीं होता है।

अबाया (एक प्रकार का वस्त्र जो सिर से लेकर पांव तक ढंका होता है)

सार्वजनिक स्थानों पर अबाया (एक प्रकार का वस्त्र जो सिर से लेकर पांव तक ढंका होता है) पहनना आवश्यक है। हालांकि रियाद में कुछ जगहों पर महिलाओं ने अपने चेहरे खुले रखने शुरू कर दिए हैं।

महिलाओं को गैर मुस्लिम पुरूष से विवाह करने से रोकते हैं

इस्लामिक नियम मुस्लिम महिलाओं को गैर मुस्लिम पुरूष से विवाह करने से रोकते हैं। इस प्रकार के कृत्य सऊदी अरब में घोर अपराध माना जाता है। यहां तक कि एक सुन्नी महिला एक शिया पुरूष से शादी नहीं कर सकती है।

महिलाएं कुछ खास प्रकार के व्यवसाय खुद नहीं कर सकती

सऊदी की महिलाएं कुछ खास प्रकार के व्यवसाय खुद नहीं कर सकती हैं। इसके लिए दो पुरूष उनकी परीक्षा लेते हैं कि वे लोन लेने या लाइसेंस लेने के काबिल हैं ये नहीं।इसके अलावा और भी कई कठोर बंदिशों को झेलतीं हैं साऊदी की महिलाएं।

महेश कुमार यदुवंशी

Related posts

जानें साल 2021 में कब-कब है विवाह का शुभ मुहूर्त, इन तारीखों पर करेंगे शादी तो नहीं आएगा कोई विघ्न !

Hemant Jaiman

राजस्थान : लगातार हो रही बारिश ने बढ़ाई मुश्किलें, उफान पर नदी-नाले, कई जिलों से कटा संपर्क

Rahul

विवादित बयान देने वाले संघ के नेता कुंदन चंद्रावत गिरफ्तार

Rahul srivastava