घोटाला और वंशवादर राजद-कांग्रेस का लक्ष्य: राजीव रंजन

पटना। बीजेपी ने घोटालों और वंशवाद को कांग्रेस तथा राष्ट्रीय जनता दल ( राजद ) का एकमात्र लक्ष्य बताते हुए कहा कि राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के जेल जाने के बाद से दोनों पार्टियां ऐसे बर्ताव कर रही हैं जैसे न्यायलय ने लालू यादव के घोटाले पर फैसला कर कोई बड़ी गलती कर दी हो। राजद सुप्रीमो लालू यादव के जेल जाने के बाद से राजद- कांग्रेस द्वारा भाजपा पर हो रहे हमलो पर पलटवार करते हुए प्रदेश भाजपा प्रवक्ता और पूर्व विधायक राजीव रंजन ने गुरुवार को यहाँ कहा कि लालू यादव के जेल जाने पर कांग्रेस राजद की प्रतिक्रिया ऐसी है जैसे लालू यादव भ्रष्टाचार के कारण नही बल्कि किसी सामाजिक आन्दोलन का नेतृत्व कर जेल गए हैं।

Rajiv Ranjan
Rajiv Ranjan

वहीं उन्होंने कहा कि इन दोनों दलों के गरीबों के हितैषी होने का नकाब अब उतर चुका है। भाजपा नेता ने कहा कि दोनों दल एक ही सिक्के के दो पहलु हैं तथा दोनों का राजनीतिक लक्ष्य भ्रष्टाचार और वंशवाद है। उन्होंने कहा कि समान लक्ष्य होने की वजह से दोनों की अटूट दोस्ती अब और भी गहरी होती दिख रही है।

बता दें कि राजीव रंजन ने कहा कि राजनीति में वंशवाद और भ्रष्टाचार शुरू करने की कांग्रेस की परम्परा को राजद ने बिहार में चरम पर पंहुचा दिया। उन्होंने कहा कि जिस तरह केंद्र में महज दस सालों में कांग्रेस के 12 लाख करोड़ के घोटाले उजागर हुए उसी तरह बिहार में राजद के हजारों करोड़ के घपले सामने आए जिसकी वजह से दोनों दल सत्ता से बाहर हो गये हैं। अपनी स्थिति पर आत्मचिंतन करने की बजाए यह दोनों दल अपनी स्थिति के लिए भाजपा को कोसने में अपना समय बर्बाद कर रहे है। उन्होंने कहा कि जनता इनकी राजनीति से परिचित हो चुकी है और अब देश में वंशवाद और भ्रष्टाचार का प्रतीक बन चुके इन दोनों दलों के भ्रमजाल में लोग नहीं फसेंगे।

वहीं बीजेपी प्रवक्ता ने कहा कि दोनों दलों की कमान युवा नेताओं के हाथ में आने के बाद इनके समर्थकों को लगा था कि शायद अब दोनों पार्टियों में एक नयी राजनीति की शुरुआत होगी लेकिन अपनी राजनीति की शुरूआती पारी में ही राजद के दोनों युवा नेता भ्रष्टाचार के मामलों में घिर गए तथा कांग्रेस के “युवराज” जाति और धर्म के सहारे अपनी राजनीतिक नैया पार करते दिखे। उन्होंने कहा कि इन दोनों दलों में सिर्फ नेतृत्व बदला है और भ्रष्टाचार, वंशवाद तथा जातिवाद की राजनीतिक परिपाटी अभी भी कायम है। देश की राजनीति में अपना अस्तित्व बचाए रखने के लिए कांग्रेस –राजद नेताओं को विकास कार्यों को अपनाने की सलाह देते हुए उन्होंने कहा कि भाजपा पर झूठे आरोप लगाने की बजाए दोनों युवा नेताओं को अपनी राजनीति सुधारने पर ध्यान देना चाहिए।